• भारत गाँवों के विकास केे लिए अमेरिका के अनुभव से सीख ले सकता है

    शिकागो। यह एक अजीब बात है जिस देश की करीब सत्तर फीसदी आबादी गाँव में बसती हो उस देश का भविष्य शहरी लोग तय करते हैं। यह तो पूंछ को गाय से चलाने वाली बात हुई। एक शहरी होने के नाते यह बात मुझे भी चुभती है, विशेषता इसलिए की लोकशाही में जहां निर्णय बहुमत से लिया जाना चाहिए वहीं निजाम कुछ उलटा ही चल रहा...

Share it
Top