Birthday Special - “शादी नहीं की, लेकिन मैं अकेली नहीं” - तब्बू

Birthday Special - “शादी नहीं की, लेकिन मैं अकेली नहीं” - तब्बूफिल्म ‘हम नौजवां’ का एक दृश्य

हिंदी फ़िल्मों में संजीदा अदाकारी के लिए पहचाने जानी वाली अदाकारा तब्‍बू का आज जन्मदिन है। 4 नवम्‍बर 1970 को हैदराबाद में जन्‍मी तब्‍बू का असली नाम तबस्सुम हाशमी है। 12 साल की उम्र तब्बू मुंबई आ गईं थी। आगे की पढ़ाई मुंबई में ही हुई। फिल्मों से पहले तब्बू ने थोड़ा-बहुत थिएटर भी किया। उन्हो ने पहली बार देव आनंद साहब की फिल्म ‘हम नौजवान’ में काम किया था। उन्होंने तेलगु, मलयालम, मराठी और बंगाली फिल्मों में भी काम किया है।

“माचिस”, “विरासत”, “हू तू तू”, “अस्तित्व”, “चांदनी बार”, “मकबूल”, “चीनी कम” “द नेमसेक”, “हैदर” और “दृश्यम” जैसी बेहतरीन फिल्मों में काम कर चुकी तब्बू बॉलीवुड की एक ऐसी एक्ट्रेस हैं जिनके नाम रिकॉर्ड अवॉर्ड्स हैं। उन्हें फिल्मफेयर में अब तक चार बेस्ट एक्ट्रेस (क्रिटिक्स) अवॉर्ड मिल चुके हैं। इसके अलावा उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट फीमेल डेब्यू और बेस्ट एक्ट्रेस केटगरी में 2 नेशनल अवॉर्ड्स भी मिल चुके हैं।

तब्‍बू कहती हैं, 'मैं सिंगल हूं और अकेले रहती हूं इसलिए अब लोग यह मानने लगे हैं कि मैं अकेली हूं. लेकिन ऐसा नहीं है. हां, लोगों के लिए मेरा अकेलापन रहस्य जरूर बना हुआ है. मुझे यह बात समझ नहीं आती कि अगर मैंने शादी की होती या किसी प्रेम संबंध में होती तो क्या स्थितियां कुछ अलग होतीं? बिल्कुल नहीं. सच तो यह है कि मेरी जिंदगी बहुत ही सिंपल है. चाहे जितना भी खोद लो, कुछ नहीं निकलेगा”

सपनों के राजकुमार को एक भ्रम बताते हुए तब्‍बू कहती हैं, 'ऐसा नहीं है कि राजकुमार नहीं आते, आते हैं लेकिन सिर्फ फिल्मों में. मैं यह नहीं कहती कि शादी जरूरी नहीं. शादी जिंदगी का अहम पहलू है. मैं इस बात से भी इनकार नहीं करती कि प्रकृति ने कुछ ऐसी रवायतें बनाई है, जिसके अनुसार हम किसी ऐसे के साथ रहें जो हमारी जिंदगी में खुशियों का पर्याय हो. लेकिन हां, अब मैं इस बात को अच्छी तरह समझ चुकी हूं कि अगर आप किसी के साथ हैं तो उचित कारणों से रहें ना कि सिर्फ इसलिए कि समाज ने हमारे लिए यह परंपराएं बनाई हैं

Share it
Top