लखनवी तहजीब के मेले का आगाज, 5 दिसंबर तक चलेगा

लखनवी तहजीब के मेले का आगाज, 5 दिसंबर तक चलेगाशुक्रवार को लखनऊ महोत्सव का उद्घाटन बहुत भव्य अंदाज में हुआ।

लखनऊ। तहजीब, शायरी, संगीत, कला-संस्कृति और खानपान के लिए देशभर में अपनी खूशबू बिखेरने वाले लखनऊ महोत्सव का शुक्रवार की शाम छह बजे भव्यता के साथ आगाज हुआ। हालांकि इसका उद्घाटन करने के लिए तय कार्यक्रम के बाद भी मुख्यमंत्री नहीं पहुंचे। सेक्टर-एल बिजली पासी किले के निकट स्मृति उपवन आयोजित हो रहे इस महोत्सव का उद्घाटन यूपी सरकार के मंत्री रविदास मेहरोत्रा, एसपी यादव, अभिषेक मिश्रा और शारदा प्रताप शुक्ला ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर लखनऊ के मंडलायुक्त भुवनेश्वर कुमार और लखनऊ के जिलाधिकारी सत्येन्द्र कुमार ने महोत्सव के बारे में अतिथियों को अवगत कराया।

उद्घाटन समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन हुआ। इसमें देशभर से आए कलाकारों ने समां बांध दिया। महोत्सव के थीम विरासत एवं विकास को इस बार महोत्सव में दिखाने की कोशिश है। सरकार अपने विभिन्न विभागों के स्टाल के माध्यम से लखनऊ में विरासत को सहेजते हुए कैसे आधुनिक विकास किया जा रहा है उसको दिखाया गया है। इस महोत्सव में मिनी इंडिया के भी दर्शन हो रहे हैं। गुजरात से लेकर असम, कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी और महाराष्ट्र से लेकर बंगाल के हस्तशिल्पी ओर कलाकार पहुंचे हैं। यहां पर हस्तशिल्पियों के लिए 385 स्टाल और कामर्शियल के लिए 180 स्टाल लगाए गए हैं।

25 से लेकर 5 दिसंबर तक चलेगा महोत्सव

पिछले 40 साल से लगातार आयोजित हो रहा लखनऊ महोत्सव इस बार 25 नवंबर से शुरू होकर 5 दिसंबर तक चलेगा। महोत्‍सव में कई प्रतियोगिताएं और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। वहीं, इस बार महोत्सव की पार्किंग भी हाईटेक होगी। लोग एप के माध्‍यम से पार्किंग के लिए जगह देख सकेंगे।

दस दिनों तक चलने वाले महोत्सव में आने वाले लोगों को कोई परेशानी न हो इसके लिये पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। स्मृति उपवन के परिसर में नोटबंदी का असर न दिखे इसलिये लगभग आठ एटीएम लगाये गये हैं। इसके अलावा परिसर मे लगी लगभग सभी दुकानों पर स्वाइप मशीनों को लगाया जायेगा जिससे लोगों को नगदी का संकट न हो। उपवन परिसर में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक हर वर्ग के लिये सभी प्रकार के इंतजाम किये गये हैं। पार्किंग को लेकर माइ पार्किंग जैसे एप आपको पार्किंग की लोकेशन पहुंचाने में सहायता करेंगे।

महोत्सव में साफ सफाई का जिम्मा नगर निगम को दिया गया है। लोगों की सुविधाओं के लिये महोत्सव मे लाने ले जाने के लिये लगभग 60 से ज्यादा बसों का संचालन शुरू किया गया है, इन बसों पर स्पेशल लखनऊ महोत्सव अंकित रहेगा। इसके साथ ही ऑटो और कैब की भी व्यवस्था की गई है। महोत्सव के लिए इस वर्ष भी शुल्क में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है साथ ही दिव्यांगो को निशुल्क प्रवेश की व्यवस्था की गयी है। वहीं महोत्सव को आधुनिक रूप से साज-सज्जा देने के लिये बेहतर इंतजाम किये गये हैं। महोत्सव में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अस्थयी रूप से लखनऊ महोत्सव थाना बनाया गया है। सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए सीसीटीवी से महोत्सव मे आनेजाने वाले पर नजर रखने का इंतजाम किया गया है।

सितारों से सज रही महोत्सव की हर शाम

लखनऊ महोत्सव के उदघाटन में देश के जानेमोन कलाकार अपनी प्रस्तुतिया देंगे। इसकी शुरूआत जानीमानी कत्थक नृत्यांगन शोवना नारायण के शिव तांडव से हुआ। 26 नवंबर को निजामी बंधु अपनी कव्वाली से लोगों का मनोरंजन करेंगे। 27 को उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान की तरफ से कवि सम्मेलन का आयोजन होगा। 28 को राक नाइट होगी जिसमें शंकर, एहसान औ लाय प्रस्तुति देंगे। 29 नवंबर सूफी नाइट होगी। जिसमें सिंगर कैलाश खेर लोगों को अपने गानों को पर झुमाएंगे। 30 नवंबर को बालीवुड नाइट में नीति मोहन कार्यक्रम देंगी। एक दिसंबर को प्राइड आफ यूपी में कनिका कपूर प्रस्तुत करेंगी। 2 दिसंबर को गजल नाइट होगा जिसमें हसन रिजवी गजल प्रस्तुत करेंगे। 3 दिसंबर को उर्दू अकादमी की तरफ से मुशायर का आयोजन होगा। 4 को कामेडी नाइट होगी जिसमें राजू श्रीवास्तव लोगों को हंसाएंगे।

Share it
Top