विश्व पुस्तक मेला 2017 : रोज़ाना पकड़े जा रहे हैं किताब चोर

विश्व पुस्तक मेला 2017 : रोज़ाना पकड़े जा रहे हैं किताब चोरविश्व पुस्तक मेला 2017

नई दिल्ली: किताबों से इश्क़ करने वालों के लिए हर साल की तरह इस साल भी प्रगति मैदान में विश्व पुस्तक मेला चल रहा है। मौसम के सर्द रुख के बावजूद देश के हर कोने से लोग यहां लगातार पहुंच रह हैं। ज़्यादा भीड़ के चलते इस बार स्टॉल्स पर प्रकाशकों ने निगरानी के भी कड़े इंतज़ाम किये हैं। आपके लिए ये बात हैरान करने वाली हो सकती है कि हर साल बुक फेयर में किताबों की चोरी के चलते पब्लिशर्स को काफी नुकसान होता है।

Picture Courtesy - Economic Times

किताब चोरों के लिए इस बार हैं ख़ास इंतज़ाम

किताबें चोरी करने वालों के लिए प्रकाशकों ने नए और हाइटेक इंतज़ाम किये हैं। इस टेकनॉलोजी को EAS यानि इलेक्ट्रॉनिक आर्टिकल सर्विलांस कहा जाता है, जिसके तहत हर किताब पर एक चिप लगाई जाती है। ये चिप पहले से ही एक्टिवेटेड होती है और जिसे पेमेंट काउंटर पर डीएक्टिवेट कर दिया जाता है। अगर कोई पुस्तक प्रेमी बिना पैसे चुकाए स्टॉल से बाहर निकलेगा तो गेट पार करते ही सायरन बजने लगेगा।

पुस्कत मेला

अब तक पकड़े गए हैं 40-50 किताब चोर

EAS तकनीक हालांकि मंहगी है लेकिन हर साल बुक फेयर को लगने वाली चपत को ध्यान में रखते हुए, इस तकनीक को अपना लिया गया है। बताया जा रहा है कि इसका असर भी ख़ूब हो रहा है। अबतक 40 से 50 पुस्तक चोर पकड़े जा चुके हैं। भीड़ के चलते अक्सर सुरक्षा गार्ड्स या प्रतिनिधियों की नज़र चूक जाती है और लोग मंहगी किताबों से हाथ साफ कर देते हैं। आपको बता दें कि ये वही तकनीक है जिसका इस्तेमाल अबतक माल्स या सुपरमार्केट वगैरह में होता था।

Share it
Top