मलिहाबाद में 12 अवैध आरा मशीनें कराईं बंद

मलिहाबाद में 12 अवैध आरा मशीनें कराईं बंदGaon Connection

लखनऊ। गाँव कनेक्शन की ख़बर का असर हुआ है। मलिहाबाद की फल पट्टी एरिया में अवैध रूप से चलाई जा रही आरा मशीनों को प्रशासन ने बंद करवा दिया। जिलाधिकारी के निर्देश पर शुक्रवार को स्थानीय प्रशासन और वन विभाग की संयुक्त कार्रवाई में 12 आरा मशीनों को हटा कर उनके अड्डे भी तोड़ दिए गए।

मलिहाबाद क्षेत्र के कई गांवों में बाग और झाड़ियों के बीच दर्जनों आरा मशीनें अवैध रूप से चलाई जा रही थीं। यहां आम को पैक करने के लिए बनाई जाने वाली पेटियों के लिए बड़े पैमाने पर हरे पेड़ों का चिरान किया जा रहा था। 29 मार्च को इलाके के दौरे पर गए जिलाधिकारी ने इन मशीनों पर कार्रवाई के निर्देश दिए थे। जिसके बाद उपजिलाधिकारी नीता यादव और वन क्षेत्राधिकारी केके उपाध्याय

ने नेतृत्व में मलिहाबाद, सेमरा, चौधराना, गढ़ी संजर खां, पुरवा गांव समेत कई गांवों में कार्रवाई की।

जिला वन अधिकारी श्रद्धा यादव ने गाँव कनेक्शन को बताया, “इन दिनों प्रशासन काफी सक्रिय था। अख़बारों में भी अवैध कटान की ख़बर आई थी। जिलाधिकारी के दौरे के बाद लकड़ी माफिया में दहशत देखी गई। कईयों ने अपनी मशीनें खुद हटा ली थी। शुक्रवार को उनके अड्डे भी तोड़ दिए गए ताकि दोबारा मशीनें लगाई न जा सकें।”

उपजिलाधिकी नीता यादव ने बताया, “रविवार को फिर इलाके में अभियान चलाया जाएगा। ताकि कहीं अवैध कटान नहीं हो सके।” गाँव कनेक्शऩ ने 14 मार्च को ख़बर प्रकाशित की थी कि फल पट्टी में आम के पेड़ ही आम के दुश्मन बन गए हैं। लकड़ी माफिया पेटियां बनाने के लिए आम के ही हरे पेड़ काट रहे हैं। जिस पर डीएफओ ने कार्रवाई की बात कही थी।

Tags:    India 
Share it
Top