मनरेगा मजदूरी 48 घंटे में

मनरेगा मजदूरी 48 घंटे मेंgaonconnection

लखनऊ। मनरेगा मजदूरों को अब भुगतान केन्द्र से ही सीधे खातों में मिलेगा, और बढ़ी मजदूरी मिलेगी।

राज्य सरकार के बजाए अब केंद्र सरकार मजदूरों के खातों में सीधे मजदूरी का पैसा ट्रांसफर करेगी। यह व्यवस्था केन्द्र ने एक तारीख से शुरू कर दी है।

मनरेगा मजदूरों को अब 161 रुपये की जगह 174 रुपये मिलेंगे, जो पैसा अभी तक रुका हुआ था, वह भी समय पर मिल जाएगा। नई प्रक्रिया के लागू होने के बाद मनरेगा मजदूर के खाते में 48 घंटे में मजदूरी पहुंच जाएगी।

मनरेगा कमिश्नर पिंकी जोवेल ने बताया, “एक अप्रैल से इसकी शुरुआत होनी है। इसके तहत अब मनरेगा मजदूरों को कम समय से अपना पैसा मिल सकेगा।” अभी तक किसी न किसी कारण से पचास प्रतिशत से अधिक मजदूरों को समय से भुगतान नहीं हो पा रहा है। कई बार ऐसा होता है कि स्टेट के खाते में पैसा न होने से समय से भुगतान नहीं हो पाता। भुगतान में आ रही समस्याओं को दूर करने के लिए केंद्र सरकार मौजूदा समय में लागू इलेक्ट्रानिक फंड मैनेजमेंट सिस्टम  को बदलकर इलेक्ट्रानिक फंड मैनेजमेंट सिस्टम लागू कर दिया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top