मोदी 22-23 मई को ईरान में, आर्थिक संबंधों की मजबूती केंद्र में

मोदी 22-23 मई को ईरान में, आर्थिक संबंधों की मजबूती केंद्र मेंgaonconnection, मोदी 22-23 मई को ईरान में, आर्थिक संबंधों की मजबूती केंद्र में

नई दिल्ली (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22-23 मई को ईरान यात्रा पर जाएंगे। उनकी यात्रा ऐसे समय हो रही है जब कि खनिजी तेल और गैस से सम्पन्न ईरान पर से अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध हटा लिए गए हैं और भारत उसके साथ संबंध बढ़ाना चाहता है।

भारत वहां से कच्चे तेल का आयात दोगुना करने और वहां की गैस परियोजनाओं में हिस्सेदारी लेने पर विचार कर रहा है। कुछ साल पहले तक ईरान भारत को कच्चा तेल देने वाला दूसरा सबसे बड़ा स्रोत था।

दोनों देशों के बीच ईरान के रणनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण चाबहार बंदरगाह विकसित करने का सौदा भी होने वाला है। इस यात्रा की घोषणा करते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘‘इस्लामिक गण-राज्य ईरान के राष्ट्रपति डाक्टर हसन रुहानी के आमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22-23 मई, 2016 को ईरान की आधिकारिक यात्रा पर होंगे।''

मोदी ईरान के सर्वोच्च नेता अली खामेनेई से भी मिलेंगे। वह राष्ट्रपति रुहानी के साथ आपसी हित के विभिन्न मुद्दों पर बातचीत करेंगे। प्रतिबंध हटने के बाद ईरान में कूटनीतिक और कारोबारियों गतिविधियां में तेजी दिख रही है। चीन से लेकर रुस तक के नेता ईरान के साथ अपने देश की नजदीकी बढ़ाने में लगे हैं।

मोदी की यात्रा से पहले सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ईरान की यात्रा की थी।

Tags:    India 
Share it
Top