मुआवज़े की रकम अब सीधे किसानों के खाते में

मुआवज़े की रकम अब सीधे किसानों के खाते मेंगाँव कनेक्शन

लखनऊ| सूखा और ओलाव्रष्टि प्रभावित किसानों को राहत राशि पहुचाने के लिए प्रदेश सरकार ने ई-पेमेंट के जरिये उनके खाते में ही पैसा भेजने का फैसला किया है| मुआवजा उन्ही किसानों को मिल पायेगा जिनका किसान पंजीकरण होगा| लेकिन अभी तक अधिकांश किसानों का पंजीकरण नहीं हुआ है| आपदा प्रभावित किसानों को मुआवजा मिल पाने में काफी समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है| जिसको ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार ने ये योजना चलायी है|

अधिकांश आपदा प्रभावित किसान अपनी समस्या लेकर सम्बंधित सभी विभागों में मुआवजा की गुहार लगाते है | लेकिन उनको सिर्फ आश्वाशन ही मिलता है| लेकिन अब सरकार ने 21 सूखा प्रभावित जिलो के लिए 84.50 करोड़ रूपये जारी कर ई-पेमेंट की व्यवस्था लागू कर दी है| प्रदेश में फरवरी से अप्रैल के बीच ओलावृष्टि से पीड़ित किसानों के लिए केंद्र व राज्य सरकार की ओर से 4498.29 करोड़ रूपये जारी किये गए है| प्रमुख सचिव राजस्व सुरेश चंद्रा ने सूखा राहत के लिए भेजी गयी रकम जिलों के कोषागार से सीधे लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में ई-पेमेंट से भेजने का आदेश जारी कर दिया है| 

रिपोर्टर - अविनाश सिंह

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top