मुलायम की इजाजत से किया कौएद का सपा में विलय: शिवपाल

मुलायम की इजाजत से किया कौएद का सपा में विलय: शिवपालgaonconnection

लखनऊ (भाषा)। माफिया सरगना मुख्तार अंसारी के कौमी एकता दल (कौएद) के समाजवादी पार्टी (सपा) में विलय को लेकर मतभेद उभरने के बीच वरिष्ठ काबीना मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने आज कहा कि उन्होंने पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव की इजाजत से ही कौएद का सपा में विलय कराया था और इस मुद्दे पर पार्टी में सबकुछ ठीक चल रहा है।

कौएद के अध्यक्ष रहे अफजल अंसारी ने इस मामले को लेकर आ रही ख़बरों को मीडिया की देन बताते हुए इसे भाजपा की साजिश बताया है। शिवपाल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने नेताजी से पूछकर ही कौमी एकता दल का सपा में विलय किया है। उनकी इजाजत से ही दोनों भाइयों अफजल और सिबगतुल्लाह अंसारी को शामिल किया है। पार्टी के सर्वेसर्वा नेताजी ही हैं।''

हत्या समेत अनेक जघन्य अपराधों के मामलों में जेल में बंद माफिया डॉन मुख्तार अंसारी के भाई अफजल अंसारी की अगुवाई वाली कौएद के सपा में विलय को लेकर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कड़े तेवरों के बीच आज उनसे मुलाकात करने वाले शिवपाल ने दावा किया कि बैठक के दौरान विलय के मामले पर कोई बात नहीं हुई। सिर्फ पार्टी के संगठन और आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर बात हुई है।

कौएद के सपा में विलय के बाद पार्टी में उठापटक मचने की ख़बरों को गलत बताते हुए शिवपाल ने कहा, ‘‘देखिये पार्टी में सबकुछ ठीक है। विलय के मामले पर फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष और संसदीय बोर्ड लेगा। पार्टी में सबकुछ ठीक है. हमारी पार्टी लोकतांत्रिक पार्टी है। सबको अपनी राय रखने का अधिकार है। पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष का फैसला सबको मंजूर होता है।''

कौएद के सपा में विलय के बाद मुख्यमंत्री द्वारा माध्यमिक शिक्षा मंत्री बलराम यादव को बर्खास्त किये जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह मुख्यमंत्री का अधिकार है कि किसे मंत्री बनाना है और किसे नहीं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top