मूसलाधार बारिश से उफान पर घाघरा समेत कई नदियां, हाई अलर्ट

मूसलाधार बारिश से उफान पर घाघरा समेत कई नदियां, हाई अलर्टमूसलाधार बारिश, उफनाई घाघरा नदियां,समेत

लखनऊ। यूपी-उत्तराखंड में हो रही झमाझम बारिश से प्रदेश के कई इलाकों में नदियां उफना गई हैं। भारी बारिश के बाद बांधों से पानी छोड़ा जा रहा है, जिसके बाद घाघरा, शारदा, सुमली की तराई में बसे इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। प्रशासन ने एहतियातन तराई और गांजर इलाकों में अलर्ट घोषित किया है।

शनिवार में दिन से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद लखीमपुर में बनवसा बैराज से 1.87 क्यूसेक, गिरिजापुरी से 1.34 क्यूसेक और शारदा बैराज सवा लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। घाघरा का पानी लखीमपुर, सीतापुर, बाराबंकी और गोंडा जिले के कई गांवों में भर गया है। सीतापुर जिले के रामपुरमथुरा ब्लॉक के गांव अंगरौरा निवासी दीपक तिवारी ने फोन पर बताया, “अंगरौरा, पंडितपुरवा, सिकरीडीह, लिलईपुर समेत कई गावों में पानी भर गया है। हालांकि अभी तक कटान शुरू नहीं हुई है।”

सीतापुर के साथ बाराबंकी में कचनापुर और मदरता समेत कई गांवों में पानी का जलस्तर बढ़ गया है। एल्गिन ब्रिज में घाघरा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, जिससे गोंडा जिले के कई गांव चपेट में आ गए हैं।

उधर, उत्तराखंड में लगातार भारी बारिश हो रही है, इसकी असर पश्चिमी यूपी के मैदानी इलाकों में पड़ने लगा है। हरिद्रार से गंगा में लगातार पानी छोड़ा जा रहा है, जिसके चलते उसका जलस्तर बढ़ गया है। गंगा के किनारे के गांवों में लोगों को अलर्ट कर दिया गया है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन से जुड़े ऋषि यादव ने बताया कि घाघरा में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए तीन टीमें घाघरा प्रभावित इलाकों के लिए रवाना हो सकती हैं। 

Tags:    India 
Share it
Top