नालों की सफाई से पहले गंगा की सफाई संभव नहीं

नालों की सफाई से पहले गंगा की सफाई संभव नहींakhilesh yadav, gaon connection, unnav

उन्नाव। आज के समय में गंगा को साफ रखने से पहले हमें गाँव और घर को साफ करना होगा। फैक्ट्रियों के नाले, शहर से निकल रही गंदगी, गंगा को सबसे अधिक प्रदूषित कर रही है। एेसे में जरूरत है कि सबसे पहले नालों की सफाई करानी होगी। ये बाते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्नाव में एक कार्यक्रम में कही  

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ''चुनाव से पूर्व उन्होंने जनता से जो भी वादे किए थे उन्हें उन्होंने पूरा किया है। युवाआें को बेरोजगारी भत्ता देने के साथ ही रोजगार भी उपलब्ध कराया गया। किसानों की भरपूर मदद की गई। अब विकास और रोजगार को आधार बनाकर ही वह आगामी चुनाव में उतरेगी।" उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार से उन्हें मदद नहीं मिल सकी। बावजदू इसके वह किसानों के लिए काम कर रहे हैं। इसके साथ ही बुंदेलखंड पर किए गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ''बुंदेलखंड के लिए वह लगातार कुछ न कुछ विशेष कर रहे हैं।"

पक्षी बिहार में मिली कमी तो होगी कार्रवाई

नवाबगंज पक्षी बिहार की बदहाल व्यवस्था पर मुख्यमंत्री ने तल्ख लहजे में कहा, ''पक्षी बिहार को विकसित करने की जरूरत है। पिछले दिनों उन्हें जानकारी मिली थी कि पक्षी बिहार की झील में पानी नहीं है। इस पर अधिकारियों को आदेश देकर पानी भरवाया जा चुका है।" मनरेगा के तहत मशीनों से पक्षी बिहार में काम कराए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मामले की जांच कराई जाएगी। जांच में कमी मिली तो कार्रवाई भी होगी। साथ ही पक्षी बिहार की झील में बंधा बनाने व अवैध निर्माण की शिकायत पर जांच कराए जाने का आश्वासन दिया। 

Tags:    India 
Share it
Top