Top

बेटियों को बचाने के लिए बेटियां आ रहीं आगे 

Neetu SinghNeetu Singh   27 Jun 2017 8:14 PM GMT

बेटियों को बचाने के लिए बेटियां आ रहीं आगे महिलाओं से बात करती महिला बाइकर

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

इलाहाबाद। महिला बाइकर्स को देखकर जसरा ब्लॉक की रहने वाली रामलली (40 वर्ष) ने खुश होते कहा, "पहली बार लड़कियों को गाड़ी चलाते देखा है, इनको देखकर ऐसा लग रहा है कि अगर हम भी अपनी बेटियों को छूट दें तो वो भी आगे बढ़ सकती है, हमारे गाँव में शराब पीकर आये दिन आदमी महिलाओं के साथ मारपीट करते हैं।"

ये भी पढ़ें : पीड़ित महिलाओं को हक दिला रहा आशा ज्योति केन्द्र

उन्होंने आगे कहा, "जब महिलाओं को 181 हेल्पलाइन के बारे में पता चला है तो अब वो मार सहेंगी नहीं बल्कि अपनी सुरक्षा के लिए आवाज़ उठाएंगी,जब उन्हें और उनकी बेटियों को आसानी से मदद मिलेगी तो कोई भी माँ अपनी बेटी को कोख में नहीं मारेंगी।

कई अधिकारियों ने लिया हिस्सा।

इलाहाबाद विज्ञान परिसर में महिला कल्याण विभाग एवं महिला समाख्या की आपसी साझेदारी से कन्या भ्रूण हत्या,महिलाओं के साथ हो रही हिंसा के लिए 181,रेस्क्यू वैन के प्रचार प्रसार के लिए सैकड़ों की संख्या में महिलाओं को जानकारी दी गयी ।

ये भी पढ़ें : आशा ज्योति केंद्र पर महिलाओं की मदद के साथ अब उन्हें बनाया जा रहा आत्मनिर्भर

कार्यक्रम में आये प्रभारी जिला अधिकारी सैमुअल पाल एन ने अपने संबोधन में कहा, "किसी भी सरकारी योजना के प्रचार प्रसार के लिए महिलायें महत्वपूर्ण कड़ी हो सकती हैं, जिले में स्वच्छ भारत अभियान का खुले में शौंच मुक्त अभियान में हम महिला समाख्या की महिलाओं की मदद लेंगे,31 दिसंबर 2017 को जिले को खुले में शौच मुक्त करना है।" उन्होंने आगे कहा, "महिला राइडर्स को देखकर यहां बैठी महिलायें जरूर सीख लेंगी, कन्या भ्रूण हत्या को न सिर्फ रोकेंगी बल्कि जानकारी मिलने पर पीड़ित महिला को न्याय दिलाने के लिए 181 पर फोन करके सूचना देंगी जिससे अपराधी को सजा मिल सके।"

महिला बाइकर्स के साथ रैली में शामिल छोटा कंजासा गांव की रहने वाली पूजा निषाद(21 वर्ष) खुश होकर बताती हैं, "पहली बार मैंने लड़कियों को सड़क पर बुलट गाड़ी चलाते देखा है, गाँव में तो सिर्फ स्कूटी ही चलाते हैं हम लोग, आज इस रैली में शामिल होकर बहुत गर्व महसूस कर रही हूं, मैं एक दिन बाइक जरूर चलाऊंगी इन्हे देखकर अब मेरा ये सपना बन गया है।" पूजा की तरह सैकड़ों ग्रामीण छात्राएं इस महिला बाइकर्स रैली में साइकिल से शामिल हुई,और जनता को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का सन्देश दिया।

रैली में बढ़ चढ़ कर लिया हिस्सा।

मेयर अभिलाषा गुप्ता ने इस रैली को हरी झंडी दिखाई और उनका उत्साह बढ़ाते हुए कहा, "ये हमारे लिए गर्व की बात है कि आज सैकड़ों की संख्या में ये महिला बाइकर्स बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान चला रही हैं,इस रैली से सभी जागरूक होंगे,आने वाले समय में निश्चित तौर पर बदलाव देखने को मिलेंगे।"

महिला समाख्या की जिला कार्यक्रम समन्यक पंकज सिंह ने कहा, "आज हमें इस बात की बेहद खुशी है कि बेटियों को बचाने के लिए बेटियां ही आगे आयीं हैं, महिला बाइकर्स से सभी ये सीख लेंगे कि अब हमें बेटियों को मारना नहीं है बल्कि इन बाइकर्स की तरह बहादुर अपनी बेटियों को बनाना है।"

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहांक्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.