एक सास ऐसी भी जिसने बेटे की मौत के बाद बहु को बेटी मानकर कराई दूसरी शादी

एक सास ऐसी भी जिसने बेटे की मौत के बाद बहु को बेटी मानकर कराई दूसरी शादीशकुन्तला मौर्या

सुशील सिंह, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

सुल्तानपुर। आप सास-बहू के झगड़े के मामले तो आए दिन सुनते होंगे, लेकिन जिले के भदैयां ब्लॉक के भदैयां गाँव निवासी शकुन्तला मौर्या (50 वर्ष) ने अपने बेटे की मौत के बाद खेती कर अपनी बहू की दूसरी शादी कराई और अपने पोते को पाल रही हैं।

शकुंतला के बेटे अरविन्द कुमार मौर्य (22 वर्ष) की शादी रेखा (19 वर्ष) से 2002 में हुई थी। बेटे की शादी के एक वर्ष बाद ही शकुंतला के पति की मौत हो गई। अभी शकुंतला इस दर्द से उबर भी नहीं पाई थीं कि एक महीने के अंदर ही बेटे की भी मौत हो गई। शकुन्तला के ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।

ये भी पढ़ें- सिर्फ कुछ फोन कॉल आत्महत्या के प्रयास को रोक सकता है

अरविन्द ने रेलवे की परीक्षा पास कर ली थी, परंतु ज्वाइनिंग से पहले ही दुर्घटना में उसकी हो गई। अब शकुंतला बहू को हिम्मत देतीं या खुद को। बहू की गोद में एक महीने का बेटा था। वह बहू से हमेशा कहतीं कि तुम मेरी बेटी हो। ये मेरी बेटी के साथ हुआ होता तो मैं क्या करती, क्या उसे छोड़ देती। आज से तुम्हारी सब जिम्मेदारी मेरी है तुम सिर्फ पढ़ो। हिम्मत करके उन्होंने खेती शुरू कर दी और एक एकड़ खेत में सब्जी की खेती शुरू कर दी।

यदि मेरी बेटी के साथ कुछ होता तो क्या मैं उसको घर में न रखती। ईश्वर ने मुझे दुःख तो बहुत दिया। इस लड़की का क्या कसूर। यह क्यों पूरा जीवन बर्बाद करे।
शकुंतला मौर्या

सब्जी की खेती करना और उसे मंडी में बेचना। इस तरह शकुंतला ने पूरे परिवार को खेती से जीवन को पालना शुरू किया। बहू को समाज से ताने मिलने लगे कि शादी होते ही ससुर और बेटे को खा गई, लेकिन इन सब बातों को पीछे कर शकुंतला बहू को पढ़ाने लगीं। शकुंतला ने पांच साल बाद बहू की शादी अलीगंज में करा दी और पोते को आपने पास रख लिया।

ये भी पढ़ें- भारत के एक लाख गांवों में पानी की समस्या पर काम करेंगे ‘कृषि जलदूत’

पोते का नाम श्वेतांक है। शकुन्तला बताती हैं, “यदि मेरी बेटी के साथ कुछ होता तो क्या मैं उसको घर में न रखती। ईश्वर ने मुझे दुःख तो बहुत दिया। इस लड़की का क्या कसूर। यह क्यों पूरा जीवन बर्बाद करे।” श्वेतांक ने बताया, “मां ने मुझे कभी भी किसी चीज की कमी नहीं की। न तो बाप की न मां की।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top