नौकरियों की सौगात: केंद्र करेंगा दो लाख से ज्यादा कर्मचारियों की भर्ती

नौकरियों की सौगात: केंद्र करेंगा दो लाख से ज्यादा कर्मचारियों की भर्तीgaoconnection

नई दिल्ली। मोदी सरकार जल्द ही करीब सवा दो लाख केंद्रीय कर्मचारियों की भर्ती करने जा रही है। ये भर्तियां दो साल में की जाएंगी। नरेंद्र मोदी सरकार की योजना एक मार्च 2015 से 2.2 लाख लोगों को सरकारी नौकरी देने की है। 

फिलहाल केंद्रीय कर्मचारियों का नियुक्तियों पर रोक लगी हुई है। केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में छह लाख से ज्यादा पद खाली हैं।

आंकड़ों के मुताबिक साल 2016-17 के बजट अनुमानों के अनुसार एक मार्च 2015 को केंद्रीय कर्मचारियों की संख्या 33.05 लाख थी, जो 2016 में बढ़कर 34.93 लाख हो गई। एक मार्च 2017 तक यह संख्या बढ़कर 35.23 लाख हो जाएगी। इसमें रेलवे भी शामिल है। 

रेलवे ने बीते तीन साल से एक भी कर्मचारी की भर्ती नहीं की है। फिलहाल रेलवे में कर्मचारियों की संख्या 13 लाख 26 हजार है। जिसमें सुरक्षा बलों को शामिल नहीं किया गया है। 

इनमें से सबसे ज्यादा भर्तियां करीब 70,000, राजस्व विभाग में होनी हैं। राजस्व के अंदर इनकम टैक्स, कस्टम एंड सेंट्रल एक्साइज डिपार्टमेंट शामिल हैं। राजस्व विभाग के बाद सबसे ज्यादा भर्ती की योजना पैरा मिलेट्री फोर्सेस में है, इसमें करीब 47,000 भर्तियां की जाएंगी। पैरा मिलेट्री फोर्सेस से अलग होम मिनिस्ट्री में करीब 6,000 भर्तियां करने की भी योजना है।

इसके अलावा सरकार के कामकाज में सहायक कैबिनेट सेक्रेटरिएट में 301 कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। इसमें 2015 में 900 लोग थे, एक मार्च 2017 में यह संख्या 1,201 हो जाएगी। वहीं इनफॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री में पिछले दो साल में 2,200 कर्मचारियों की भर्ती की गई है।

इस वजह से हुई कमी

केंद्र सरकार के कई विभाग स्टाफ की कमी से जूझ रहे हैं। इसका कारण है पिछले कई साल से ग्रुप ‘बी’ और ग्रुप ‘सी’ कैटेगरी में रिक्रूटमेंट्स का न होना। पर्सनल मिनिस्ट्री के मुताबिक, "अब इन कैटेगरीज में काफी नियुक्तियां होनी हैं।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top