निष्क्रिय ईपीएफ़ खातों में पड़ी हैं 43 हजार करोड़ रुपये की राशि

निष्क्रिय ईपीएफ़ खातों में पड़ी हैं 43 हजार करोड़ रुपये की राशिgaonconnection, निष्क्रिय ईपीएफ़ खातों में पड़ी हैं 43 हजार करोड़ रुपये की राशि

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्र सरकार ने आज बताया कि निष्क्रिय ईपीएफ खातों में 43 हजार करोड़ रुपये की राशि पड़ी है। श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री बंदारु दत्तात्रेय ने लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान सदस्यों के सवालों के जवाब में ये जानकारी देते हुए बताया कि साल 2015-16 में 98 फीसदी ईपीएफ दावों का निपटान 20 दिन के भीतर किया गया। उन्होंने बताया कि इस अवधि में ऐसे 11,866 मामले निपटाए गए।

उन्होंने स्पष्ट किया कि निष्क्रिय और बिना दावे वाले ईपीएफ खातों में अंतर है और सरकार ने एक सदस्य का एक ईपीएफ खाता योजना शुरु की है। उन्होंने बताया कि इसके तहत ईपीएफओ हर कामगार को एक यूनिवर्सल एकाउंट नंबर यूएएन उपलब्ध कराता है।

दत्तात्रेय ने बताया कि सरकार ने इसके लिए विनिर्माण कामगारों को प्राथमिकता दी है। उन्हें ये यूएएन नंबर दिया जाएगा ताकि वे लाभों को हासिल कर सकें। उन्होंने बताया कि दिल्ली तथा हैदराबाद में आटो रिक्शा और रिक्शाचालकों के लिए एक पायलट परियोजना चलायी जाएगी। उन्होंने बताया कि ईपीएफओ ने वर्ष 2013-।4 में 12,336 वर्ष 2014-15 में 13,021 लाख दावों का निपटान किया। उन्होंने साथ ही बताया कि वर्ष 2015-16 में कुल 1,18,426 ईपीएफ निपटान मामले लंबित हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top