पाक ने किया भारतीय रॉ एजेंट को पकड़ने दावा, भारत ने खारिज किया आरोप

पाक ने किया भारतीय रॉ एजेंट को पकड़ने दावा, भारत ने खारिज किया आरोपGaon Connection

गाँव कनेक्शन नेटवर्क

नई दिल्ली पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसने बलूचिस्तान में भारतीय खुफिया एजेंसी में काम करने वाले एक रॉ एजेंट को गिरफ्तार किया है। बलूचिस्तान के गृह मंत्री मीर सरफराज बुगती ने कहा कि रॉ एजेंट को बलूचिस्तान के दक्षिणी इलाके से पकड़ा गया है। पाकिस्तान ने एजेंट पर स्थानीय अलगाववादियों की मदद का भी आरोप लगाया है। पाकिस्तान के मुताबिक़ गिरफ्तार किए गए जासूस का नाम भूषण यादव है। पाकिस्तानी अख़बार 'डॉन' के साथ बातचीत में एक पाकिस्तानी सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि रॉ अफसर को पूछताछ के लिए इस्लामाबाद लाया गया है। पाकिस्तान का दावा है कि रॉ एजेंट कई तरह की आतंकी गतिविधियों में शामिल था। इनमें कराची में हुआ एक हमला भी शामिल हैं। बलूचिस्तान के गृह मंत्री ने कहा कि रॉ अधिकारी की गिरफ्तारी से ये बात साबित हो गई है कि बलूचिस्तान में बाहरी दखलअंदाज़ी ख़ासकर रॉ के कारण हालात ख़राब हुए हैं। मीर सरफराज बुगती ने कहा, "मैं पहले दिन से कह रहा हूं कि बलूचिस्तान में रॉ काम कर रही है। सब लोग मुझसे सबूत मांगते थे। अब इससे बढ़कर और क्या सबूत होगा कि उनका एक अधिकारी बलूचिस्तान में बैठ कर काम कर रहा है।" एक सवाल के जवाब में गृह मंत्री ने कहा कि वो इस समय यह नहीं बता सकते हैं कि गिरफ्तार व्यक्ति किस रैंक के अधिकारी हैं, इसकी जांच की जा रही है। वहीं, पाकिस्तानी मीडिया की कुछ रिपोर्टों में अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि गिरफ्तार जासूस भारतीय नौसेना का अधिकारी है। पाकिस्तान लंबे समय से भारत पर बलूचिस्तान में दखल देने के आरोप लगाता रहा है।

भारत ने आरोपों का किया खंडन

हालांकि भारत ने पाकिस्तान के इन आरोपों को सिरे से नकार दिया है। भारत सरकार ने बयान जारी कर कहा है कि बलूचिस्तान में पकड़े गए एजेंट का ना तो भारत और ना ही भारतीय खुफिया एजेंसियों से कोई लेना देना है।

भारतीय उच्चायुक्त से शिकायत

पाकिस्तान ने रॉ के एजेंट की गतिविधियों के खिलाफ आपत्ति दर्ज कराने के लिए शुक्रवार को भारतीय उच्चायुक्त गौतम बंबावाले को तलब किया। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने अपने बयान में कहा, "विदेश सचिव ने आज भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया और रॉ के एक अधिकारी द्वारा पाकिस्तान में अवैध तरीके से दाखिल होने और बलूचिस्तान तथा कराची में विध्वंसक गतिविधियों में अधिकारी की संलिप्तता के मामले में डिमार्श के माध्यम से अपना विरोध और गहन चिंता व्यक्त की।" बलूचिस्तान के गृह मंत्री मीर सरफराज बुगती ने दावा किया है कि भूषण बलूचिस्तान में जातीय हिंसा फैला रहे आतंकवादियों और अलगाववादियों के साथ संपर्क में थे। हालांकि बुगती ने ये नहीं बताया कि अधिकारी को किस जगह गिरफ्तार किया गया था।

पाकिस्तान पहले भी लगा चुका है आरोप

ये पहली मर्तबा नहीं है जब पाकिस्तान ने भारत पर इस तरह के आरोप लगाए हैं। इससे पहले भी पाकिस्तान कई बार भारत पर आरोप लगा चुका है कि भारतीय खुफिया एजेंसी के लिए काम करने वाले एजेंट पाकिस्तान में आशांति फैलाने की कोशिश में लगे हुए हैं। पाकिस्तान ने अफगानिस्तान का भी ज़िक्र किया था कि भारतीय खुफिया एजेंसियां अफगानिस्तान में चोरी-छिपे अपने आपरेशन चला रही हैं। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top