पांच वर्ष का होगा कुलपतियों का कार्यकाल

पांच वर्ष का होगा कुलपतियों का कार्यकालगाँव कनेक्शन

लखनऊ। जौनपुर विश्वविद्यालय में आयोजित कुलपतियों के सम्मेलन राजपाल राम नाईक ने कहा शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए कुलपतियों का कार्यकाल तीन साल के स्थान पर पांच साल का होगा और 

धोखाधड़ी रोकने के लिए डिग्रियों पर बार कोडिंग कराई जाएगी। सम्मेलन में राम नाईक ने कहा कि प्रदेश के 10 विश्वविद्यालयों ने दीक्षांत समारोह का ड्रेस कोड बदलते हुए भारतीय वेशभूषा का ड्रेस कोड लागू कर दिया है। अन्य विश्वविद्यालयों को भी इसे लागू करना चाहिए। राजभवन के बाहर पहली बार हो रहे कुलपति सम्मेलन में 25 विश्वविद्यालय के कुपलति शामिल हुए। 

राज्यपाल ने सम्मेलन की मेजबानी वीर बहादुर सिंह पूर्वाचल विश्वविद्यालय की सराहना करते हुए कुलपतियों से कहा कि समय से रिजल्ट घोषित करने के साथ मार्कशीट दिए जाएं। 

उन्होंने कहा कि कुलपतियों का कार्यकाल पांच साल करने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। कार्यकाल पांच साल होने पर कुलपति की अधिकतम आयु 68 से बढ़कर 70 साल हो जाएगी। केंद्रीय विश्वविद्यालयों में पांच साल के लिए ही नियुक्तियां होती है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top