पहली बार रेत के 100 रथों के साथ देखने को मिलेगी बाबा जगन्नाथ की झलक

पहली बार रेत के 100 रथों के साथ देखने को मिलेगी बाबा जगन्नाथ की झलकgaonconnection

भुवनेश्वर (भाषा)। प्रख्यात कलाकार सुदर्शन पटनायक भगवान जगन्नाथ की अगली रथ यात्रा के लिए ओडिशा में पुरी तट पर रेत से बने 100 रथ बनाकर विश्व रिकार्ड बनाने की कोशिश में हैं।

लकड़ी से बने विशाल रथों पर भगवान बलभद्र, भगवान जगन्नाथ और देवी सुभद्रा की प्रतिमाओं के दर्शन के अलावा श्रद्धालुओं को नौ दिवसीय उत्सव के दौरान रेत कला की झलक देखने को मिलेगी। पटनायक ने कहा, ‘‘मेरे संस्थान के 25 छात्रों और मैंने शुक्रवार से 100 रथों पर काम करना शुरु किया है। छह जुलाई को शुरु होने वाली रथ यात्रा के दो दिन पहले कल दोपहर तक काम पूरा हो जाएगा।'' उन्होंने बताया कि उनकी टीम 50 से ज्यादा रथ पहले ही तैयार कर चुकी है, पटनायक ने कहा कि वह लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में जगह बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड के एडिटर की तरफ से हमें आधिकारिक अनुमति मिली है। उनके निर्देश के मुताबिक हमने यह शुरु किया है।'' हर साल रथ यात्रा से संबंधित रेत कलाकृति बनाने वाले पटनायक ने कहा कि उम्मीद है कि इस साल उनके काम को देखने कई पर्यटक आएंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top