पीवी नरसिंह राव के पौत्र ने कहा: सोनिया को भड़काया गया था

पीवी नरसिंह राव के पौत्र ने कहा: सोनिया को भड़काया गया थाgaonconnection

हैदराबाद (भाषा)। पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिंह राव द्वारा आर्थिक सुधार शुरु करने के 25 वर्ष पूरा होने के अवसर पर उनके पौत्र एनवी सुभाष ने दुख जताया कि कांग्रेस ने उनके योगदान को ‘‘पहचान नहीं'' दी और इन बातों से इंकार किया कि पूर्व प्रधानमंत्री के सोनिया गांधी से संबंध अच्छे नहीं थे।

सुभाष ने कहा कि कुछ वर्गों में इस तरह की अवधारणा सही नहीं है कि राव के प्रधानमंत्री रहते सोनिया से संबंध अच्छे नहीं थे। उन्होंने कहा कि दोनों में काफी अच्छा संबंध था।

सुभाष ने कहा कि कैबिनेट की बैठक से पहले और बाद में राव हमेशा सोनिया से मिलते थे, कैबिनेट विस्तार और विदेशी दौरे को लेकर उनसे सलाह-मशविरा करते थे और चुनावों से पहले ‘‘उनकी पसंद के उम्मीदवारों'' को लेकर चर्चा करते थे।

उन्होंने कहा, ‘‘एक प्रधानमंत्री और क्या कर सकता है?'' उन्होंने कहा कि गांधी परिवार को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई थी, राजीव गांधी फाउंडेशन को सरकारी धन जारी किए गए और राव ने परिवार का ‘‘ठीक से ख्याल'' रखा।

सुभाष ने कहा, ‘‘कई लोगों का मानना था कि अगर वह (राव) पांच वर्ष और प्रधानमंत्री रहे तो लोग नेहरु गांधी परिवार को भूल जाएंगे। अपने लाभ के लिए वास्तव में उन्होंने सोनिया को भड़काया। मेरा मानना है कि उनका (राव) के खिलाफ कोई वैर नहीं था। उनके पति (राजीव गांधी) उनसे बड़े थे। स्वाभाविक रुप से उन्हें सम्मान देना था।'' 

उन्होंने कहा कि यह पीढ़ी उदारीकरण के फल चख रही है जिसके बीज 1991 में बोए गए थे। देश में तेज आर्थिक विकास हो रहा है और इसका श्रेय राव को जाता है जिनके बाद की सरकारें सुधार के उस रास्ते पर चलीं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top