पंचायत चुनाव करीब देख याद आई ईद मुबारकबाद

पंचायत चुनाव करीब देख याद आई ईद मुबारकबाद

गोण्डा। ''जहां हमारे यहां पहले कोई पानी नहीं पसंद करता था इस बार ईद की मुबारकबाद देने के लिए लोग घर आ रहे थे, रोजे की इफ्तारी में शामिल हो रहे थे।'' शहज़ाद अली (36) बताते हैं।

इस नए बदलाव का कारण आने वाला पंचायत चुनाव है। गोण्डा जिला मुख्याल से लगभग 15 किमी दूर पूरे मधई पंचायत में कुल मिलाकर चार गाँव हैं। पंचायत चुनाव की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं और उसकी का असर है कि जो लोग कभी शहज़ाद अली का हाल नहीं पूछते थे उसके घर पर सेवईं खाने के लिए पहुंचते हैं क्योंकि शमीम के घर में कुल मिलाकर 11 सदस्य हैं और ये एक अच्छा वोट बैंक है।

''पूरे मधई गाँव के प्रधान कंटा राम यादव के साथ इस बार चार अन्य लोगों के चुनाव में खड़े होने की संभावना है। जातिगत राजनीति पूरे गाँव में प्रभावी है। मुस्लिम वोट ज्यादा है इसलिए लोग किसी तह उन्हें लुभा कर अपने पाले में करना चाहते हैं।'' गाँव के रामप्रताप सिंह बताते हैं, जो पास के महात्मा गाँधी इंटर कॉलेज में अध्यापक हैं।

बीते वर्षों में प्रधान के विकास कार्यों पर नजर डालें तो गाँव में सड़कें बनी हैं, खड़ंज्जे भी लगे हैं, एक हैलोजन लाइट लगवाई गई है जिससे गाँव भर में रोशनी रहे। लेकिन ये सभी काम हाल में ही करवाये गये हैं। गाँव के निवासी बुुधई (35) बताते हैं, ''पहले तो सब जैसे सो रहे थे अब इधर पिछले पांच महीने से बड़ी तेजी आ गई है। खड़ज्जे भी अभी बने हैं।''

गाँव के प्रधान कं टा राम यादव बताते हैं, ''हमने तो गाँव का विकास ही चाहा है और इस बार भी मौका मिला तो वही कराएंगे। गाँव वालों के राशन कार्ड बनवाने, मनरेगा का काम सही तरीके से हुआ है और सभी को समय पर भुगतान भी दिया गया है। इस बार भी अगर महिला सीट हुई तो हमारी पत्नी चुनाव लड़ेंगी और उनका पूरा सहयोग करेंगे।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top