प्रदेश में खोले जाएंगे नए कृषि विज्ञान केन्द्र

प्रदेश में खोले जाएंगे नए कृषि विज्ञान केन्द्रगाँव कनेक्शन

लखनऊ। प्रदेश में नए कृषि विज्ञान केंद्र खोले जाएंगे, साथ ही प्रदेश के नए जिलों में और बड़े जिलों में दूसरे कृषि विज्ञान केंद्र खुलने से प्रदेश में कृषि विज्ञान केंद्रों की संख्या और बढ़ेगी। कृषि तकनीकी अनुप्रयोग संस्थान, कानपुर के निदेशक, डा.यूएस गौतम ने कहा।

कृषि तकनीकी अनुप्रयोग संस्थान, के निदेशक लखनऊ में भारतीय गन्ना शोध संस्थान में आयोजित कृषि विज्ञान केंद्र की वार्षिक कार्यशाला में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से आए वैज्ञानिकों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने आगे बताया कि देश में 642 कृषि विज्ञान केन्द्र कार्य कर रहे हैं और 109 नए केन्द्रों की स्थापना प्रस्तावित हैं। इसी प्रकार उत्तर प्रदेश में 68 और उत्तराखण्ड में 13 कृषि विज्ञान केन्द्र मिलाकर कुल 81 कृषि विज्ञान केंद्र काम कर रहे हैं।

कृषि विज्ञान केन्द्रों की तीन दिवसीय 23वीं वार्षिक कार्यशाला में वित्तीय वर्ष 2015-16 की कार्य प्रगति का अवलोकन किया गया और आगामी वर्ष के लिए कार्ययोजना तय की गई। कार्यशाला के अंतिम दिन उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के 81 कृषि विज्ञान केन्द्रों की तीन दिवसीय 23वीं वार्षिक कार्यशाला शनिवार समाप्त हो गई। 

डा. एसआर सिंह, पूर्व कुलपति, राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, पूसा, बिहार ने कृषि विज्ञान केन्द्रों की महिला वैज्ञानिकों से खाद्य प्रसंस्करण पर शोध करके देश के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक नागरिकों के लिए नए पौष्टिक उत्पादों को विकसित करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि इससे उद्यमिता विकास के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले व्यक्तियों को रोजगार के नए अवसर भी उपलब्ध हो होंगे। 

Tags:    India 
Share it
Top