प्रेमिका के मौत के बाद दुखी ज़ेब्रा की मौत

प्रेमिका के मौत के बाद दुखी ज़ेब्रा की मौतगाँव कनेक्शन

लखनऊ। चिड़ियाघर में मादा जेब्रा 'संस्कृति' की मौत के आठ दिन बाद नर ज़ेब्रा बंकित ने भी दम तोड़ दिया। संस्कृति कि मौत के बाद बंकित ने खाना पीना छोड़ दिया था। चिड़ियाघर के कर्मचारियों की तमाम कोशिशों के बावजूद उसे बचाया नहीं जा सका।

पिछले दो वर्षों से बंकित और संस्कृति साथ थे। बंकित के इलाज के लिये भारतीय पशु अनुसंधान संस्थान के डॉक्टरों को भी बुलाया गया था। चार सदस्यीय पशु चिकित्सकों की टीम ने उसको बचाने कि पूरी कोशिश की लेकिन बचा नहीं पाए।

चिड़ियाघर में अब कोई भी जेब्रा नहीं रह गया है। इस क्षति की भरपायी करने के लिए चिड़ियाघर प्रशासन ने दूसरे ज़ेब्रा को मंगाने का प्रयास शुरू कर दिया है। अगर देश के किसी चिड़ियाघर से ज़ेब्रा नहीं मिल पाता तो विदेश से ज़ेब्रा मँगाने का प्रयास किया जाएगा।

Tags:    India 
Share it
Top