पतंजलि की जन्मभूमि का विकास कराएगी सरकार: मंत्री

पतंजलि की जन्मभूमि का विकास कराएगी सरकार: मंत्रीgaonconnection

गोंडा (भाषा)। योग के माध्यम से भारत को विश्व मानचित्र पर सिरमौर के रुप में स्थापित कराने वाले महर्षि पतंजलि की जन्मस्थली को उत्तर प्रदेश सरकार पर्यटन स्थल के रुप में विकसित करेगी और उसे विश्व धरोहर का दर्जा दिलाए जाने का भी प्रयास किया जाएगा।

प्रदेश के कृषि मंत्री विनोद कुमार उर्फ पंडित सिंह ने अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योग के प्रणेता महर्षि पतंजलि की गोण्डा स्थित जन्मभूमि कोंडर में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि आज एक ओर जहां विश्व के 140 से अधिक देशों में योग दिवस मनाया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर योग के प्रणेता महर्षि पतंजलि की जन्मभूमि पूरी तरह उपेक्षित है।

कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश समाजवादी पार्टी सरकार महर्षि पतंजलि की जन्मस्थली को विकसित कराएगी। उन्होंने यहां एक भव्य व्यायामशाला बनवाए जाने के साथ ही महर्षि पतंजलि की सुन्दर प्रतिमा व सौर ऊर्जा लगवाए जाने की घोषणा की और कहा कि मंदिर परिसर और कोंडर झील का भी सुन्दरीकरण कराकर पर्यटन योग्य बनाया जाएगा।

First Published: 2016-09-16 16:22:26.0

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top