पुलिस की गिरफ्त में ज़मीन हड़पने वाला हर्रई बाबा

पुलिस की गिरफ्त में ज़मीन हड़पने वाला हर्रई बाबाgaoconnection

बाराबंकी। अश्लील वीडियो के सामने आने के बाद हर्रई बाबा की काली करतूतें सामने आने लगी हैं। अब बाबा के रूप में प्रसिद्ध परमानंद तिवारी पर जमीन हड़पने का भी आरोप लगा है।

हर्रई धाम के बाबा परमानन्द के खिलाफ एक समय कोई कुछ भी बोलने की हिम्मत नहीं कर पा रहा था, आज वही लोग बाबा पर मुकदमा लिखने के बाद खुलकर अपना मुंह खोलने लगे हैं। राम शंकर तिवारी उर्फ़ बाबा परमानन्द पर स्थानीय ग्रामीण सुधांशु तिवारी ने आरोप लगाते हुए बताया कि बाबा अपने ऊंचे प्रभाव के चलते कमजोर लोगों और सरकारी ग्राम समाज की ज़मीनें जबरन कब्ज़ा करते रहे हैं। इसके लिए विवाद भी हुए मगर बाबा के प्रभाव के आगे यह सारे मामले दबा दिए गए।

सूत्र बताते हैं कि मुकदमे के बाद पुलिस से फरार चल रहा बाबा विदेश जाने की फिराक में है। पुलिस बाबा के करीबियों को हिरासत में लेकर पूछताक्ष कर रही है। पुलिस को परमानन्द के आश्रम में तहखाना मिला है जहां कई बेड रूम हैं और सभी जगह सीसीटीवी लगे हैं।

आश्रम में लगी फोटो में पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी, पूर्व मंत्री और डुमरियागंज से सांसद जगदम्बिका पाल, उत्तर प्रदेश में परिवहन विभाग के सलाहकार और नारायण दत्त तिवारी के पुत्र रोहित शेखर तिवारी के अतिरिक्त रविन्द्र कुमार (एसपी), देवेन्द्र कुमार पांडेय (एडीएम), अनिल कुमार सिंह (एसडीएम) नजर आ रहे हैं। साथ ही  बाबा के आश्रम के एक वीडियो में दरबार में हाज़िरी लगने गए क्राइम ब्रांच के इन्स्पेक्टर राम जी यादव बाबा के गुणगान और दावत में व्यस्त दिखाई दे रहे हैं।

स्थानीय ग्रामीण राम दुलारे मिश्र व तुन्हु ने बताया कि आश्रम में स्थानीय लोगों का न तो आश्रम में आना -जाना था और न ही बाबा स्थानीय लोगों को पसंद करते थे और न ही आश्रम में आने देते थे। सिर्फ बाहर से आये मालदार भक्तों का प्रवेश आसानी से हो सकता था।

पुलिस ने शिष्या को पकड़ा

बाबा परमानन्द का आश्रम भक्तों की भारी भीड़ के लिए जाना जाता था। दूर -दूर से बाबा के भक्त बाबा के दरबार में हाज़िरी लगाने आते थे। पुलिस ने आश्रम की मुख्य शिष्या को हिरासत में लेकर बाबा का पता लगाने की कवायद शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार बाबा का पता लगाने के लिए आश्रम की मुख्य कर्ताधर्ता और बाबा की खासमखास शिष्या चंचल पाठक को हिरासत में लिया गया है।

Tags:    India 
Share it
Top