नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्वी अमृतसर सीट से नामांकन पत्र दाखिल किया  

नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्वी अमृतसर सीट से नामांकन पत्र दाखिल किया  पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू।

अमृतसर (आईएएनएस)| कांग्रेस पार्टी से जुड़ने के दो दिन बाद ही बुधवार को नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्वी अमृतसर सीट से अपना नामांकन-पत्र दाखिल कर दिया। पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी और नेता सिद्धू ने रविवार को स्वयं के कांग्रेस में शामिल होने को 'घरवापसी' करार दिया।

अपना नामांकन करने के बाद सिद्धू ने कहा, "इस बार पंजाब, पंजाबियात और पंजाब के लोगों की जीत होगी।" सिद्धू ने कहा, "मैं इस बार हर पंजाबी को पंजाब के लिए और राज्य में धर्म की स्थापना के लिए मतदान करने को कहूंगा।" पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी सिद्धू ने यह भी कहा कि यह उनकी निजी लड़ाई नहीं है।

पिछले साल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से अलग होने वाले सिद्धू ने कहा, "मैं चाहता हूं कि पंजाब की युवा पीढ़ी सही रास्ते पर चले। मेरे लिए राजनीति में आकर लड़ना बेहद जरूरी था।"

पंजाब में चार फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने लांबी निर्वाचन क्षेत्र से अपना नामांकन दाखिल किया। इसके अलावा आप नेता भगवंत मान ने आम आदमी पार्टी के टिकट पर जलालाबाद सीट से नामांकन दाखिल किया।

कांग्रेस के दिग्गज नेता अमरिंदर सिंह लांबी विधानसभा सीट से शिरोमणि अकाली दल (शिअद) से चुनाव लड़ रहे मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को चुनौती दे रहे हैं, लांबी से दिल्ली के पूर्व विधायक और आप के नेता जनरैल सिंह भी मैदान में हैं। अमरिंदर सिंह ने कल अपनी परंपरागत पटियाला शहर सीट से नामांकन दाखिल किया था।

हाल ही में कांग्रेस में शामिल होने वाले सिद्धू के नामांकन दाखिल करते समय उनके साथ उनकी पत्नी नवजोत कौर और अन्य कांग्रेसी नेता साथ थे। पूर्व सांसद, सिद्धू के खिलाफ अमृतसर भाजपा जिला प्रमुख राजेश कुमार हनी चुनाव लड़ रहे हैं।

संगरुर से सांसद भगवंत मान शिअद अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ जलालाबाद से मैदान में हैं। कांग्रेस ने अपने युवा तुर्क और दिवंगत मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के पोते सांसद रणवीत बिट्टू को जलालाबाद से मैदान में उतारा है।

पंजाब के लांबी और जलालाबाद विधानसभा सीट पर जबर्दस्त मुकाबला होने के आसार हैं। पंजाब में एक चरण में चार फरवरी को मतदान होना है।

Share it
Top