पंजाब में कैप्टन अमरिंदर की ताजपोशी आज, सिद्धू पर निगाहें  

Mohit AsthanaMohit Asthana   16 March 2017 10:44 AM GMT

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर की ताजपोशी आज, सिद्धू पर निगाहें  पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह आज सुबह 10 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

चंडीगढ़। पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह आज सुबह 10 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कैप्टन के साथ 11 मंत्री भी आज शपथ लेगें. इनमें नवजोत सिंह सिद्धू, मनप्रीत बादल, ब्रह्म महिंद्रा, साधू सिंह धर्मसोत, राणा गुरजीत सिंह, तृप्त राजेंद्र बाजवा और चरणजीत सिंह चन्नी कैबिनेट तथा रजिया सुल्ताना, अरुणा चौधरी और ओपी सोनी को राज्यमंत्री का दर्जा जा सकता है।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

विधानसभा में कांग्रेस के 77 विधायक हैं और राज्य में वह अधिकतम 18 मंत्री बना सकती है। हालांकि इन मंत्रियों में सभी की नजर नवजोत सिंह सिद्धू पर रहेगी। ऐसी अटकलें है कि उन्हें उपमुख्यमंत्री पद दिया जा सकता है। चंडीगढ़ के पंजाब राजभवन में आयोजित होने वाला यह शपथ ग्रहण कार्यक्रम बहुत ही सादा रखने की तैयारी है। कैप्टन के इस सादे शपथ ग्रहण का मकसद जनता के बीच यह संदेश देना है कि कांग्रेस सरकार किसी भी तरह की फिजूलखर्ची नहीं होने देगी। साथ ही पहले से ही भारी घाटे में चल रही पंजाब सरकार के पास पैसे की कमी है और इसी वजह से इस सरकार के कार्यकाल में फिजूलखर्ची को रोका जाएगा। वहीं पारिवारिक तौर पर भी कैप्टन अमरिंदर सिंह परेशान चल रहे हैं। उनकी मां महेंद्र कौर चंडीगढ़ के पीजीआई में भर्ती हैं और शपथ ग्रहण समारोह को बिल्कुल सादा रखने के पीछे की एक वजह इसे भी माना जा रहा है। हालांकि शपथ ग्रहण समारोह में उन छह राज्यों के मुख्यमंत्री भी शिरकत करेंगे, जहां पर फिलहाल कांग्रेस की सरकार है। इसके अलावा कांग्रेस आलाकमान के वरिष्ठ नेता और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी शपथ ग्रहण में शामिल होंगे।

कांग्रेस ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया, 'मनमोहन सिंह और राहुल गांधी के अलावा हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला तथा उनके पुत्र उमर अब्दुल्ला और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेंगे। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम, आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल, अश्वनी कुमार, राजीव शुक्ला, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा, राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी समारोह में मौजूद रहेंगे.

पंजाब में सत्ता विरोधी लहर पर सवार होकर कांग्रेस दस साल के बाद सत्ता में आई है। उसने विधानसभा की 117 सीटों में से 77 सीटों पर कब्जा जमाया। सत्तारूढ़ शिअद-बीजेपी को 18 सीटें मिली, राज्य में पहली बार विधानसभा चुनाव में उतरी आप ने 20 सीटें जीतीं,, जबकि दो सीटें नई पार्टी और आप की सहयोगी लोक इंसाफ पार्टी को मिली। यह दूसरी बार है जब अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इससे पहले वह 2002 से 2007 तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top