पूर्वोत्तर की समृद्ध संस्कृति को दिखाएगा दिल्ली में आयोजित ये महोत्सव

पूर्वोत्तर की समृद्ध संस्कृति को दिखाएगा दिल्ली में आयोजित ये महोत्सवgaonconnection

नई दिल्ली(भाषा)। पूर्वोत्तर की समृद्ध संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए बृहस्पतिवार से दिल्ली में एक महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें वहां के संगीत और नृत्य को लोगों के सामने पेश किया जाएगा।

इस महोत्सव का नाम "अमेजिंग नॅार्थ ईस्ट...पेराडाइज अनएक्सप्लोर्ड'' रखा गया है और इसका आयोजन "लाइफ ऑफ विजन'' नामक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) की ओर से किया जा रहा है। यहां कुल 22 कलाकारों के द्धारा सात बहनें कहे जाने वाले पूर्वोत्तर के लोक गीतों और नृत्य कला का प्रदर्शन किया जाएगा।

यह महोत्सव कलाकारों को एक ऐसा प्लेटफॉर्म प्रदान करेगा, जहां से वो अपनी कला को ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं। गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) की संस्थापक सुमिता बसु ने बताया, "हम इन कलाकारों को इसलिए मौका देना चाहते हैं क्योंकि यह कला ही इनकी कमाई का एकमात्र जरिया है, अगर हम इनकी मदद नहीं करेंगे तो ये लोग इस कला को दूसरी पीढी तक नहीं पहुंचा पाएंगे।"

शाम की शुरुआत मणिपुर और मिजोरम से आए कलाकारों के संगीत से होगी, बाद में असम के एक समूह के द्वारा बिहु प्रस्तुत किया जाएगा। सारे कलाकार पारंपरिक पोशाकों में नजर आएंगे।

इस मौके पर प्रमुख नृत्यांगना सोनल मानसिंह और संजय हजारिका भी एक टॉक शो के लिए मौजूद रहेंगे। इस महोत्सव के बाद अगला महोत्सव अक्तूबर महीने में होगा। इसमें देश के युवाओं को बताया जाएगा कि पूर्वोत्तर भारत के युवाओं को देश के विभिन्न हिस्सों में किस तरह के भेदभाव का सामना करना पड़ता है।

 

Tags:    India 
Share it
Top