राजमार्ग चौड़ा करने के लिए खोदे जा रहे गाँव

राजमार्ग चौड़ा करने के लिए खोदे जा रहे गाँव

रिपोर्ट- रमेश चन्द्र गुप्ता

भावलखेड़ा (शाहजहांपुर)।जिले में अवैध मिट्टी खनन ज़ोरों पर है। गाँवों में बेरोकटोक अवैध मिट्टी खनन हो रहा है और सरकार अपनी लाख कोशिशों के बावजूद इस पर रोक लगाने में असमर्थ साबित हो रही है।

भावलखेड़ा ब्लॉक के इटौरिया गुर्री गाँव राष्ट्रीय मार्ग 24 सीतापुर रोड से लगभग 01 किमी. जिला मुख्यालय से लगभग 15 किमी की दूरी पर बसा है। इसमें हिन्दू और मुस्लिमों की मिली-जुली आबादी है, मुख्य गांव से पूरब की ओर लगभग 10-15 गरीब मुस्लिम परिवार ग्राम समाज की जमीन पर काफी लम्बे अरसे से बसे हैं। सभी लोग मजदूरी आदि करके अपना जीवनयापन करते हैं, किसी के भी पास अपनी खेती है। 

इटौरिया गुर्री गाँव के निवासी सूबेदार खां 70 वर्ष घस्सू खां, बताते हैं,'' इतनी गहरी मिट्टी खुदवाई की जा रही है कि अगर हम लोग शिकायत करते हैं, तो ये लोग पैसे वाले दबंग लोगों से मिल कर हमसे झगड़ा करते हैं। मिट्टी निकालने का काम हमारे निकलने वाले रास्ते से बिल्कुल मिलाकर करवाया जा रहा है, जिससे हमारे रास्ते की चौड़ाई भी काफी कम होकर पगडंडी मात्र रह गई है।"

इन दिनों राष्ट्रीय मार्ग 24 का चौड़ीकरण हो रहा है, उसी के ठेकेदार द्वारा जेसीबी मशीन से डम्परों व टैक्टर-ट्रालियों से मिट्टी का खनन करवाकर मिट्टी राष्ट्रीय मार्ग पर डाली जा रही है। गाँव में जेसीबी मशीन से मानकों के बिल्कुल विपरीत 6-7 फु ट तक की गहराई से मिट्टी निकालने का काम किया जा रहा है, जिसमें बरसात के दिनों में पानी भर जाने से छप्पर पोश घर गिर जाने, की पूरी संभावना है। 

''बरसात के दिनों में कोई भी फि सलकर पानी भरे गहरे गड्ढे में गिर सकता है, गाँव में काफी बुजुर्ग व बच्चे रहते हैं। ऐसे में अगर गहरी खुदाई न रुकी तो कोई भी गंभीर हादसा हो सकता है। हम गरीब लोग हमारी सुनेगा ही कौन? और फि र शिकायत करके हम यहां से भागकर कहां जायेेगें? हमारा और कहीं तो कुछ है नहीं क्या करे, मजबूरी में किसी तरह हम लोग गुज़ारा कर लेंगे।" इटौरिया गुर्री ग्राम निवासी, घस्सू खां बताते हैं।

Tags:    India 
Share it
Top