राज्यसभा में उठी पंजाब के किसानों का कर्ज माफ करने की मांग

राज्यसभा में उठी पंजाब के किसानों का कर्ज माफ करने की मांगgaoconnection, राज्यसभा में उठी पंजाब के किसानों का कर्ज माफ करने की मांग

नई दिल्ली (भाषा)। पंजाब में किसानों द्वारा आत्महत्या किए जाने का जिक्र करते हुए आज कांग्रेस के एक सदस्य ने राज्य के किसानों का कर्ज माफ करने की मांग की।

शून्यकाल में कांग्रेस के प्रताप सिंह बाजवा ने यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि देश भर को अनाज खिलाने वाले पंजाब के किसानों की हालत अत्यंत शोचनीय है। उन्होंने कहा कि यह धारणा पूरी तरह गलत है कि पंजाब के किसान संपन्न हैं। सच तो यह है कि राज्य के करीब 70 फीसदी किसानों के पास पांच एकड़ से भी कम जमीन है।

उन्होंने कहा कि इस साल के शुरुआती तीन माह में 57 किसान आत्महत्या कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि सैन्य बलों में जा कर पंजाब के जवानों ने न केवल सीमाओं की सुरक्षा की है बल्कि खेतों में श्रम कर के देश को अनाज भी दिया है। लेकिन आज स्थिति अलग है। आज पंजाब पर 69 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है।

उन्होंने कहा कि आज एक ओर किसानों पर कर्ज का बोझ है वहीं दूसरी ओर सूदखोर उनसे मनमाना ब्याज वसूल रहे हैं। यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि सूदखोर बैंकों द्वारा लिए जाने वाले ब्याज से अधिक ब्याज न लें।

बाजवा ने कहा कि वर्ष 2008 में संप्रग सरकार ने देश भर के किसानों का करीब 72 हजार करोड रुपये का कर्ज माफ किया था। वर्तमान सरकार को भी किसानों के हित में यह कदम उठाना चाहिए।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.