सेना के 2011 के ‘ऑपरेशन जिंजर’ को लेकर कांग्रेस और भाजपा के नेता भिड़े

सेना के 2011 के ‘ऑपरेशन जिंजर’ को लेकर कांग्रेस और भाजपा के नेता भिड़ेइंडियन आर्मी

नई दिल्ली (आईएएनएस)। वर्ष 2011 में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी चौकियों पर जबर्दस्त सर्जिकल स्ट्राइक की थी, यह बात सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच रविवार को जमकर वाकयुद्ध हुआ। भारतीय सैनिकों के 'ऑपरेशन जिंजर' नाम के उस अभियान में कम से कम आठ पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे और कई बुरी तरह घायल हुए थे।

कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने कहा, "यह कहना सेना और रक्षा प्रतिष्ठान का अपमान है कि 29 सितंबर को जैसा सर्जिकल स्ट्राइक हुआ, वैसा कभी हुआ ही नहीं था। सिर्फ यही हुआ कि मनमोहन सिंह की सरकार ने कभी भी इस तरह के हमलों को प्रचारित नहीं किया क्योंकि यह हमारी नीति के अनुरूप नहीं था।"

उन्होंने कहा कि यह मीडिया, कांग्रेस और हर आदमी की जिम्मेदारी है कि सत्तारूढ़ भाजपा द्वारा राजनीतिक लाभ लेने के लिए किए जा रहे खुल्लमखुल्ला झूठे प्रचार का पर्दाफाश करे।

दूसरी ओर भाजपा ने कहा कि 29 सितम्बर की तरह की कोई गुप्त सैनिक कार्रवाई इससे पहले कभी नहीं हुई थी।

भाजपा के प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने कहा, "सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किए हैं, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेतृत्व प्रदान किया और सेना को इस व्यापक स्तर के हमले करने की सुविधा दी।"

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से कांग्रेस खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top