राम मंदिर से जुड़ी बड़ी खबर का बीजेपी ने किया खंडन, जानिए क्या है पूरा मामला

न्यूज एजेंसी आईएएनएस ने अमित शाह के हवाले से कहा कि 2019 के आमचुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो सकता है।

राम मंदिर से जुड़ी बड़ी खबर का बीजेपी ने किया खंडन, जानिए क्या है पूरा मामला

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का एक बड़ा बयान आया है। शुक्रवार को न्यूज एजेंसी आईएएनएस ने अमित शाह के हवाले से कहा कि 2019 के आमचुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो सकता है। खबरों के मुताबिक, अमित शाह ने यह बयान हैदराबाद में पार्टी नेताओं के साथ हुई एक बैठक में दिया था। इसके बाद हुई प्रेस बीफ में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य पराला शेखरजी ने इस बयान की जानकारी दी। हालांकि बाद में बीजेपी ने इस खबर का खंडन करते हुए कहा कि शाह ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया था।


शुक्रवार शाम देश के राजनीतिक हलकों में उस समय हलचल मच गई जब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का कथित तौर पर वह बयान सामने आया जिसमें उन्होंने कहा था कि, "जो हो रहा है उसे देखते हुए लगता है कि 2019 से पहले राम मंदिर का काम शुरू हो जाएगा।" राम मंदिर मसला अदालत के विचाराधीन होने के नाते बीजेपी के सभी नेता इस पर बयानबाजी से बचते हैं। इसलिए अमित शाह के इस बयान से खलबली मचना स्वाभाविक था।

एआईएमआईएम प्रमुख असददुद्दीन ओवैसी ने इस बयान की कड़ी आलोचना की। मामला ज्यादा तूल पकड़े उससे पहले ही शनिवार सुबह बीजेपी की ओर से इसका खंडन किया गया। पराला शेखर के बयान का तेलंगाना के बीजेपी विधायक रामचंद्र राव ने खंडन करते हुए एबीपी न्यूज से कहा, "अमित शाह ने राम मंदिर निर्माण को लेकर कुछ नहीं कहा था।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top