गुरदासपुर उपचुनाव रिजल्ट: कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ ने भाजपा के सवर्ण सलारिया को 1,93,219 मतों से हराया

गुरदासपुर उपचुनाव रिजल्ट: कांग्रेस उम्मीदवार  सुनील जाखड़ ने भाजपा के सवर्ण सलारिया को 1,93,219  मतों से हरायाकांग्रेस।

गुरदासपुर (भाषा)। गुरदासपुर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव की मतगणना के शुरुआती रुझानों में कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ ने गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव में जीत दर्ज की। सुनील जाखड़ ने भाजपा प्रत्याशी सवर्ण सिंह सलारिया को 1,93,219 मतों के अंतर से हराया। सवर्ण सिंह सलारिया को 3,06,533 मत प्राप्त हुए। आम आदमी पार्टी उम्मीदवार मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) खजुरिया 23,579 मत के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

प्रारंभिक रुझानों के अनुसार, सुनील जाखड़ सभी नौ विधानसभा क्षेत्रों में अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वियों से आगे चल रहे हैं, वह पंजाब कांग्रेस के प्रमुख भी हैं। कांग्रेस उम्मीदवार ने भारी बढ़त के लिए मतदाताओं और पार्टी को शुक्रिया कहा है।

संवाददाताओं से बातचीत में राज्य के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, हम लोगों ने पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को लाल रिबन में पैक करके दिवाली का उपहार भेंट किया है क्योंकि यह आगे की राह तय करेगा...। सिद्धू ने कहा, यह जीजा-साले (शिअद प्रमुख सुखबीर बादल और बिक्रम सिंह मजीठिया) के चेहरे पर बड़ा तमाचा है। आज भाजपा यह समझ जाएगी कि अकाली दल पंजाब में बडा बोझ बन गयी है, बार-बार लोगों ने उनको याद दिला दी है...। मतगणना आज सुबह आठ बजे शुरू हुई।

इसी बीच आप उम्मीदवार लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) सुरेश खजूरिया ने कांग्रेस पर उपचुनाव के लिए अलोकतांत्रिक तरीके अख्तियार करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, सत्तारुढ़ दल ने इन चुनावों में अलोकतांत्रिक तरीकों का सहारा लिया। उपचुनाव के दौरान लोग डरे हुए थे और युवा लगभग नदारद थे। अगर उनकी (कांग्रेस की) जीत होती है तो वह सम्मानजनक नहीं होगी। मतों की गिनती के लिए दो मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं।

मतगणना आज सुबह आठ बजे शुरू हुई। मतों की गिनती के लिए दो मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

परिणाम से कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़, भाजपा उम्मीदवार सवर्ण सिंह सलारिया और आप के मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) सुरेश खजूरिया सहित 11 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा।

गुरदासपुर जिले के छह विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए गुरदासपुर के सुखजिंदर कॉलेज में मतगणना केंद्र बनाया गया है और पठानकोट जिले की तीन विधानसभा सीटों के लिए पठानकोट में एसडी कॉलेज में मतगणना केंद्र बनाया गया है।

गुरदासपुर लोकसभा सीट में नौ विधानसभा सीट हैं : भोआ, पठानकोट, गुरदासपुर, दीनानगर, कादियां, फतेहगढ़ चूड़ियां, डेरा बाबा नानक, सुजानपुर और बटाला, गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव में मुख्य राजनीतिक दल कांग्रेस, भाजपा और आप के बीच मुकाबला है।

इस उपचुनाव को पंजाब में छह महीने पुरानी कांग्रेस सरकार की लोकप्रियता के लिए मापदंड के रूप में देखा जा रहा है।

यह खबर भी पढ़ें

इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्रसभा का कब्जा

कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ ने पहले दावा किया था कि यह उपचुनाव मोदी सरकार पर जनमत संग्रह होगा। भाजपा ने इस सीट को वापस पाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है, इस सीट से विनोद खन्ना भाजपा के टिकट पर चार बार चुनाव जीते थे।

इस जीत से भाजपा को बढ़त मिलेगी जो उसके लिए बेहद जरूरी है। भाजपा ने विधानसभा चुनाव में सुजानपुर की चार सीटों में से केवल एक पर जीत दर्ज की थी। पंजाब विधानसभा में 20 सीटों के साथ मुख्य विपक्षी दल आप भी उपचुनाव में जीत दर्ज कर राज्य में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहती है।

यह सीट अभिनेता से नेता बने विनोद खन्ना के अप्रैल में निधन के बाद खाली हो गई थी।

उपचुनाव के नतीजों से कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़, भाजपा के स्वर्ण सलारिया और आप के मेजर जनरल (सेवानिवृत) सुरेश खजुरिया समेत कुल 11 उम्मीदवारों की राजनीतिक किस्मत का फैसला होगा। इस सीट पर 11 अक्तूबर को हुए उपचुनाव में 56 फीसदी मतदान हुआ जो वर्ष 2014 के आम चुनावों में हुए 70.03 फीसदी मतदान के मुकाबले कम है।

यह खबर भी पढ़ें

केरल : वेंगारा उपचुनाव में आईयूएमएल के केएनए खादर जीते, भाजपा के जनचंद्रन चौथे स्थान पर रहे

अधिकारी ने बताया कि गुरदासपुर लोकसभा सीट के तहत आने वाली नौ सीटों में से डेरा बाबा नानक विधानसभा सीट पर सबसे ज्यादा 65 फीसदी मतदान हुआ जबकि बटाला विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम 50 फीसदी मतदान हुआ।

गुरदासपुर लोकसभा सीट भाजपा का गढ़ रहा है। विनोद खन्ना इस सीट से चार बार सांसद रहे। खन्ना का इस वर्ष 27 अप्रैल को मुंबई के एक अस्पताल में कैंसर से निधन हो गया था।

Share it
Top