मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनाव

मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनावमुलायम सिंह यादव।

औरैया (मैनपुरी)। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने रविवार को मैनपुरी में बड़ी घोषणा की है। समाजवादी पार्टी के गढ़ माने जाने वाले मैनपुरी से उनका लगाव जगजाहिर है। मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वह वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव खुद मैनपुरी से लड़ेंगे।

मैनपुरी की जनता को मेरे स्नेह की जरुरत

मुलायम सिंह यादव रविवार को मैनपुरी में एक विवाह समारोह में शामिल होने आए थे। इस दौरान उन्होंने कहा, “2019 का लोकसभा चुनाव मैं खुद मैनपुरी से ही लड़ूंगा। यहां की जनता को मेरे स्नेह और प्यार की जरूरत है।“

दोनों जगहों से मिली थी जीत

पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव 2014 में लोकसभा का चुनाव मैनपुरी के साथ ही आजमगढ़ से लड़े थे। इन दोनों जगह से उनको जीत मिली थी। अब मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से ही चुनाव लडऩा चाहते हैं। मुलायम सिंह यादव के 2014 में मैनपुरी सीट छोड़ने के बाद यहां से उप चुनाव में उनके भतीजे तेज प्रताप सिंह यादव ने जीत दर्ज की थी।

अय्यर का बयान बेहद दुखद

दूसरी ओर भाजपा और कांग्रेस के बीच चल रही शब्दबाण की सियासत पर मुलायम सिंह यादव ने कहा, “देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच कहने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर का बयान बेहद दुखद है। उनको इस तरह का बयान देने से पहले कम से कम सौ बार सोचना चाहिए था। कांग्रेस ने भले ही उनको निलंबित कर दिया है, लेकिन ऐसे नेता को तो पार्टी से ही बर्खास्त कर देना चाहिए।“

मुलायम सिंह यादव

ऐसे नेता को पार्टी से निकाल देना चाहिए

मुलायम ने कहा, “कांग्रेस नेता द्वारा प्रधानमंत्री के लिए ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल करना निश्चित तौर पर गलत है। इस तरह की भाषा बोलने वाले व्यक्ति को न केवल निलंबित कर दिया जाना चाहिए, बल्कि उसे पार्टी से भी निष्कासित कर दिया जाना चाहिए।“

ईवीएम पर भरोसा नहीं

मुलायम सिंह यादव ने कहा, “पहले की राजनीति और अब की राजनीति मे बड़ा बदलाव हुआ है। सकारात्मक राजनीति लुप्त हो गई है। एक दूसरे पर कीचड़ उछालना आम बात हो गई है।“ वही ईवीएम पर उठ रहे सवालों पर उन्होंने कहा कि ईवीएम पर हमको भी विश्वास नहीं है।

गुजरात में पांचों सीट हारेगी सपा

गुजरात चुनाव में समाजवादी पार्टी की संभावना के बारे में मुलायम सिंह यादव ने कहा, “गुजरात में सपा पांचों सीट हारेगी। पार्टी को यहां पर सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने थे, तभी जनता समझती की समाजवादी पार्टी गुजरात को लेकर गंभीर है।“

यह भी पढ़ें: गुजरात के लोगों को लालू की नसीहत

भाजपा का गुजरात मॉडल लोगों को धोखा देने का मॉडल है : अखिलेश

Share it
Top