समाजवादी कभी भ्रष्टाचार व परिवारवाद के साथ नहीं हो सकता : नीतीश 

समाजवादी कभी भ्रष्टाचार व परिवारवाद के साथ नहीं हो सकता : नीतीश नितीश कुमार 

पटना (आईएएनएस)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां सोमवार को पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव और उनके समर्थकों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि समाजवादी कभी भ्रष्टाचार और परिवारवाद के साथ नहीं हो सकता।

ये भी पढ़ें-बनावटी सपाइयों से रहें सतर्क : अखिलेश यादव

पटना में लोक संवाद कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए नीतीश ने बिना किसी का नाम लिए कहा, "समाजवादी कभी भी परिवारवाद और भ्रष्टाचार का साथ नहीं देता। समाजवाद ऐसा नहीं होता। अपने सिद्घांतों को भूलकर अगर कोई अलग रास्ते पर चल रहा है तो चले, लेकिन किसी पर बेवजह की छींटाकशी नहीं करनी चाहिए।" उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि हमने सोच-समझकर बिहार की जनता के हित में महागठबंधन तोड़ने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि सर्वे करा लें कि बिहार के लोग इस फैसले से कितने खुश हैं। जद (यू) अध्यक्ष ने कहा कि यह फैसला बिहार के हित में और बिहार का विकास करने के लिए लिया गया है। इस पर छींटाकशी नहीं करनी चाहिए।

ये भी पढ़ें-न मैं मुलायम के दिल में, न सपा में : अमर सिंह

शरद यादव गुट के लोगों द्वारा अपने गुट को असली जद (यू) कहे जाने पर उन्होंने कहा कि उनके लोग इसे साबित करने के लिए दो-दो बार चुनाव आयोग गए, लेकिन हुआ क्या? हम लोगों ने चुनाव आयोग में सभी तथ्य उपलब्ध करा दिए हैं। नीतीश कुमार ने बिहार के विकास की चर्चा करते हुए कहा, "12 साल से बिहार में काम कर रहे हैं। यहां सरकारी योजनाओं में कोई भेदभाव नहीं है। सभी के लिए खासकर हाशिये पर खड़े लोगों को मुख्य धारा से जोड़ने का काम हो रहा है।"

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल जद (यू) अध्यक्ष नीतीश कुमार ने पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री धमेंद्र प्रधान से मुलाकात और उनसे हुई बातचीत को सार्थक बताते हुए कहा कि उनसे प्रत्येक मुद्दे पर बात हुई है।

बिहार में पाइप के माध्यम से गैस का वितरण और गांवों में एलपीजी के वितरण को लेकर उनसे सार्थक चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि जल्द ही बिहार के एक जिले का चुनाव कर मॉडल के तौर पर वहां के सभी घरों में रसोई गैस उपलब्ध कराने की योजना बनाई जा रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top