कर्नाटक: बीमार मां के इलाज के लिए भीख मांग रही थी 6 साल की बच्ची, मदद के लिए आगे आया यह विभाग

सोशल मीडिया पर एक 6 साल की बच्‍ची की भीख मांगते हुए तस्‍वीर वायरल हो रही है, जिसमें वह अपने मां के इलाज के लिए अस्‍पताल परिसर में भीख मांग रही है।

कर्नाटक: बीमार मां के इलाज के लिए भीख मांग रही थी 6 साल की बच्ची,  मदद के लिए आगे आया यह विभाग

लखनऊ। सोशल मीडिया पर एक 6 साल की बच्‍ची की भीख मांगते हुए तस्‍वीर वायरल हो रही है, जिसमें वह अपने मां के इलाज के लिए अस्‍पताल परिसर में भीख मांग रही है। एएनआई के अनुसार तस्‍वीर वायरल होने के बाद बच्ची की मदद के लिए राज्य महिला एवं बाल कल्याण विभाग आगे आया है। विभाग ने महिला के इलाज और बच्ची की शिक्षा का सारा खर्च देने की बात कही है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मामला कर्नाटक के कोप्पल का है। यहां एक महिला अधिक शराब पीने के कारण बीमार पड़ गई और उसे अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक होने के कारण बच्ची को भीख मांगनी पड़ी।

इसे भी पढ़ें- यूपी: बाराबंकी में जहरीली शराब पीने से 10 लोगों की मौत, सीएम योगी ने दिया कड़ी कार्रवाई का आश्वासन

मामले की जानकारी मिलते ही राज्य महिला एवं बाल कल्याण विभाग ने संज्ञान लिया। विभाग ने महिला के इलाज और बच्ची की पढ़ाई की जिम्मेदारी उठाने की बात कही है। एएनआई के मुताबिक यह बच्ची बीते एक हफ्ते से अस्पताल परिसर में भीख मांगकर किसी तरह अपना और अपनी मां का पेट भर रही है। इसी दौरान कुछ लोगों ने उसकी भीख मांगती तस्वीर को सोशल मीडिया पर डाल दिया।

एबीपी न्‍यूज के अनुसार बच्ची का नाम भाग्यश्री और मां का नाम दुगरम्मा है। दुगरम्मा शराब की आदी थी, जिस वजह से वो बीमार हो गई। बीमारी की हालत में इलाज से लेकर खाने पीने तक की दिक्कतें थीं। ऐसे में महिला की नन्हीं सी बेटी ने खुद अपनी मां की जिम्मेदारी उठा ली।

भाग्यश्री ने कहा कि मेरे पिता नहीं है इसलिए मुझे अपनी मां का ख्याल रखना है। मेरे पास पैसे नहीं थे इसलिए मुझे भीख मांगनी पड़ी। मैंने लोगों से पैसे मांगे और उससे अपनी मां को को खाना खिलाया।

अस्‍पताल के संयुक्त निदेशक इरन्ना पंचाल का कहना है कि दुर्गम्मा काराटगी सिद्धापुरा की रहने वाली है। उसका एक बेटा भी है जो चौथी कक्षा में पढ़ता है। जब वह अस्पताल में आई थी, तब उसकी हालत काफी खराब थी। उनका कहना है कि वे महिला के उपचार के साथ बच्ची को स्कूल भेजने की व्यवस्था कर रहे हैं।



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top