साक्षी हत्याकांड से सहमे बेटियों के अभिवावक

साक्षी हत्याकांड से सहमे बेटियों के अभिवावकगाँव कनेक्शन

बागपत। जिले में हाल ही में हुए साक्षी हत्याकांड के बाद खिदौड़ा सहित कई गाँवों के  लोग डर गए हैं। हाल यह है कि लोग अपनी बेटियों को स्कूल पढऩे के लिए नहीं भेज रहे हैं।

जनपद से 19 किमी पूर्व दिशा में खिदौडा गाँव में आज बेटियों के लिए पढ़ाई करना मुश्किल हो गया है। गाँव के प्रीतम सिंह (40 वर्ष) बताते हैं,''मेरी बेटी शिवानी स्कूल जाने के समय मुझसे पूछती है कि पापा मैं स्कूल जाऊं, तो मैं उसे मना कर देता हूं। क्या किया जा सकता है बेटी खोने का डर जो है।’’ 

अभी पंद्रह दिन पहले ही खिदौडा गाँव में रहने वाली 10वीं कक्षा की छात्रा साक्षी का स्कूल जाते वक्त अपहरण हो गया था। खोजबीन के बाद उसका मृत शरीर मिला था। पुलिस जांच में रेप की पुष्टी हुई थी और अपराधी पुलिस हिरासत में हैं। 

पास ही के कस्बे अमीनगर सराय में प्राईमरी विधालय में प्रधानाध्यापक के पद पर तैनात अनील कुमार बताते हैं,''जब से साक्षी के साथ घटना हुई है , तब से अभिभावक भी डरे हुए हैं और बच्चों को नहीं भेज रहे हैं, जिनके बच्चे आते भी हैं ,वो कई बार बच्चों का पता लेने स्कूल आते रहते हैं। लोगों में हत्याकांड का डर है, जिससे स्कूल में बच्चों की उपस्थिति भी कम हो गई है।’’ गाँवों में महिलाओं की हिफाज़त पर बागपत जिले एसपी रवि शंकर छवि बताते हैं,''यहां महिलाओं की सुरक्षा के लिए विभाग प्रयासरत किये जाते है। मनचलों पर भी कारवाई की जाती है। स्कूल कॉलेजों में हैल्पलाईन नम्बर दिए गए हैं, जिनकी सूचना मिलने पर तुरन्त कार्रवाई होती है।’’

रिपोर्टर - सचिन त्यागी

Tags:    India 
Share it
Top