सब्ज़ी की खेती पर ठंड की मार

सब्ज़ी की खेती पर ठंड की मारगाँव कनेक्शन, सब्जी, इलाहाबाद

इलाहाबाद। कुछ दिनों से पड़ रही भीषण ठंड और बारिश ने सब्जी उत्पादक किसानों की परेशानी बढ़ा दी हैं। किसानों को सब्जी की फसल के बर्बाद होने का डर सताने लगा है। कृषि विशेषज्ञ सब्जी उत्पादक किसानों को विशेष एहतियात बरतने की सलाह दे रहे हैं।

जिले में तापमान गिरने और बारिश से सब्जी उत्पादक किसानों की नींद हराम हो गई है। खासकर मटर, टमाटर, प्याज की खेती करने वाले किसानों को अपनी फसल के बर्बाद होने का डर लग सता रहा है। मांडा गाँव निवासी बेदार हसन ने बताया,''मैंने अपने खेतों में टमाटर की फसल उगाई है। पहले से ही टमाटर का भाव गिरने के कारण काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है और अब ठंड से उनकी फसल प्रभावित हो गई है।" किसान राम लखन मिश्र ने बताया,''ठंड में पानी बरसने से टमाटर और मटर की फसल पर काफी बुरा असर पड़ रहा है। अगर ठंड का असर इसी तरह जारी रहा तो उनकी फसल ठंड की भेंट चढ़ जाएगी।" 

कृषि वैज्ञानिक डॉ.डीएस चौहान बताते हैं,''ठंड जहां सब्जी के लिए नुकसानदायक हो सकती है,वहीं गेहूं की फसल के लिए यह लाभदायक है। सब्जी उत्पादक किसानों को विशेष हिदायत बरतनी चाहिए। ठंड से आलू, मटर की फसलों में लगने वाले रोगों से छुटकारा पाने के लिए मेटा लैक्सिस प्लस मैकोंजस को मिलाकर दो ग्राम प्रति लीटर का छिड़काव करें। सरसों में फफूंदी के रोग से बचाव के लिए किसान सल्फर का छिड़काव करें।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top