यूपी : पहली बार जुलाई में ही सरकारी स्कूलों के बच्चों को मिलने लगे यूनिफॉर्म व किताबें

आम तौर पर स्कूलों के खुलने के बाद ड्रेस-वितरण होते-होते महीनों लग जाते हैं, लेकिन इस बार उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बच्चों को किताबें, बस्ते व ड्रेस बंटने शुरू गए हैं।

यूपी : पहली बार जुलाई में ही सरकारी स्कूलों के बच्चों को मिलने लगे यूनिफॉर्म व किताबेंफोटो : जिज्ञासा मिश्रा

लखनऊ। इस बार बच्चों को नए यूनिफॉर्म के लिए महीनों इंतजार नहीं करना पड़ा, सत्र के पहले सप्ताह में ही प्रदेश के ज्यादातर प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में यूनिफॉर्म और बस्ते बंटने शुरू हो गए हैं।

"इस बार पहली बार हो रहा कि जुलाई के पहले सप्ताह में यूनिफार्म और बैग बांटे जा रहे हैं, हमारी भी पूरी जिम्मेदारी बनती है कि समय से बच्चों तक पहुंच जाए। अभी किताबों के मिलने में देरी हो सकती है, लेकिन हमारी यही कोशिश रहेगी कि इसी महीने जिले के सभी स्कूलों तक यूनिफार्म और बस्तों के साथ ही किताबें भी पहुंच जाए, "महोबा जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी महेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया।


उत्तर प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्र में कुल 109471 व शहरी क्षेत्र में 3643 प्राथमिक विद्यालय हैं और ग्रामीण क्षेत्र में 44788 व शहरी क्षेत्र में 836 पूर्व माध्यमिक विद्यालय हैं।

ये भी पढ़ें : इस सरकारी स्कूल के बच्चे नहीं मारते रट्टा, प्रैक्टिकल व कम्प्यूटर के माध्यम से सीखते हैं विज्ञान व दूसरे विषय

आम तौर पर स्कूलों के खुलने के बाद ड्रेस-वितरण होते-होते महीनों लग जाते हैं पर जब बच्चों को नए सत्र के पहले ही दिन यूनिफार्म बांटे गए तो बच्चों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। सीतापुर जिले के खैराबाद ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय रस्यौरा में तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली रेशमा (9 वर्ष) पैकेट में बंद अपनी नई स्कूल-ड्रेस को बस्ते में संभाल के रखते हुए बताती हैं, "पुरानी स्कर्ट छोटी हो गई थी अब कल से मैं नयी पहन के आऊंगी।"

सर्व शिक्षा अभियान, उत्तर प्रदेश की तरफ से प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में के 1,61,36,133 विद्यार्थियों के लिए 324.20 करोड़ रुपए का बजट जारी किया गया है। इसी तरह कस्तूरबा गांधी विद्यालय की करीब 74000 छात्राओं के लिए 2.96 करोड़ रुपए का बजट जारी हुआ है। यूनिफॉर्म के लिए पहली किस्त के रूप में कुल 327.6 करोड़ रुपए का जारी किए गए हैं, प्रति यूनिफॉर्म अनुमानित दर 200 रुपए है, प्रत्येक बच्चे को दो यूनिफॉर्म दी जाएगी।

ये भी पढ़ें : नई कक्षा, नई ड्रेस: तेज़ बारिश में भी, स्कूल के पहले दिन उपस्थित हुए बच्चे

वहीं हमीरपुर जिले के सर्व शिक्षा अभियान के जिला प्रभारी मनोज पांडेय बताते हैं, "जिले के 795 प्राथमिक विद्यालय और 375 पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में अभी तक यूनिफॉर्म और बैग भेजे जा चुके हैं, किताबें भी आ गईं हैं, एक-दो दिन अभी सर्वे में लगेंगे, इसके बाद पूरे जिले में किताबें भी भेज दी जाएंगी।'

"हमारे यहां प्राथमिक विद्यालय में अभी पहली कक्षा के बच्चों को ही यूनिफॉर्म और बैग बांटे गए हैं, इस बार बारह नए बच्चों का एडमिशन हुआ है, उन सबको दे दिया गया है, जिससे बच्चे हर दिन यूनिफॉर्म पहनकर स्कूल आएं, "प्राथमिक विद्यालय के इंचार्ज अमित पांडेय ने बताया। अमित पांडेय चित्रकूट जिले के पहाड़ी ब्लॉक के बघवारा गाँव के प्राथमिक विद्यालय के इंचार्ज हैं।

ये भी पढ़ें : अगर हर अध्यापक ऐसा कदम उठाए तो बदल सकती हैं सरकारी स्कूलों की तस्वीर

Share it
Top