ब्लड के लिए मरीजों को भटकने से मिलेगी आजादी, लखनऊ के लोहिया अस्पताल में ई-रक्तकोष सुविधा शुरु

Deepanshu MishraDeepanshu Mishra   8 April 2017 6:31 PM GMT

ब्लड के लिए मरीजों को भटकने से मिलेगी आजादी, लखनऊ के लोहिया अस्पताल में ई-रक्तकोष सुविधा शुरुलोहिया प्रदेश का पहला सरकारी अस्पताल है जिसमें ई-रक्तकोष की सुविधा शुरू की गयी है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। अब मरीजों को खून के लिए इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा, क्योंकि अब ई-रक्तकोष डॉट इन पर एक क्लिक में लॉग इन करके अपने नजदीकी ब्लड बैंक की स्थिति और ब्लड कॉम्पोनेन्ट की उपलब्धता को पता कर सकते हैं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लोहिया प्रदेश का पहला सरकारी अस्पताल है जिसमें ई-रक्तकोष की सुविधा शुरू की गयी है।जिसका उद्घाटन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ महेंद्र सिंह ने किया।

प्रधानमंत्री के डिजिटल कार्यक्रम के तहत ई-रक्तकोष की स्थापना की गयी है, जो ब्लड बैंक सिस्टम है। इसका ऑनलाइन सॉफ्टवेयर सी-डैक (सेंटर ऑफ डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग) नोएडा के द्वारा उपलब्ध कराया गया है। डॉ राम मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय पहला अस्पताल है जिसे पायलट प्रोजेक्ट के लिए चुना गया है।

कोई भी व्यक्ति ई-रक्तकोष डॉट इन में लॉग इन करके अपने नजदीकी ब्लड बैंक की स्थिति और ब्लड कॉम्पोनेन्ट की उपलब्धता को पता कर सकता है। यहां डोनर का पंजीकरण होगा। रक्तदान और कम्पोनेंट समेत दूसरी जानकारी स्टोर की जाएंगी। यानी तीमारदारों को कई ब्लड बैंकों में भटकना नहीं पड़ेगा और मरीज के लिए समय पर खून मुहैया कराने में ई ब्लड बैंक की भूमिका अहम होगी।

ई-रक्तकोष का ये है उद्देश्य

सुरक्षित ब्लड की सप्लाई करना, ब्लड मिलने के समय को कम करना, ब्लड खराब होने से बचेगा, खून बेचने वालों पर रोक लगेगी, सभी ब्लड बैंको को नेटवर्किंग करना, स्वैच्छिक रक्दाताओं की उपलब्धता को बडाना इसका उद्देश्य है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top