सेहत की रसोई: बनाएं राजमा मसाला

सेहत की रसोई: बनाएं राजमा मसालागाँव कनेक्शन

सेहत की रसोई यानि बेहतर सेहत आपके बिल्कुल करीब। हमारे बुजुर्गों का हमेशा मानना रहा है कि सेहत दुरुस्ती के सबसे अच्छे उपाय हमारी रसोई में ही होते हैं। इस कॉलम के जरिए हमारा प्रयास है कि आपको आपकी किचन में ही सेहतमंद बने रहने के लिए व्यंजनों से रूबरू करवाया जाए। सेहत की रसोई में इस सप्ताह हमारे मास्टर शेफ  भैरव सिंह राजपूत इस बार पाठकों के लिए ला रहे हैं एक बेहतरीन रेसिपी। भैरव इस सप्ताह 'राजमा मसाला' तैयार करने की विधि बता रहें हैं और इस रेसिपी के खास गुणों की वकालत करेंगे हमारे अपने हर्बल आचार्य यानि डॉ दीपक आचार्य।

राजमा मसाला

आवश्यक सामग्री 

राजमा मसाला (3-4 लोगों के लिए), (प्रेशर कुकिंग के लिए)

राजमा- 150 ग्राम, पानी- आवश्यकतानुसार, हल्दी चूर्ण- चुटकीभर, नमक- स्वादानुसार (मसाला बनाने के लिए), सूखी लाल मिर्च- 2, घी- करीब 10 मिली, जीरा- एक चम्मच, अदरक- आवश्यकतानुसार, लहसुन- पांच कलियां, टमाटर- दो, धनिया पाउडर- 1 चम्मच, लाल मिर्च पाउडर- 1 चम्मच, हल्दी- आधा चम्मच, सूखी मेथी की पत्तियां, (कसूरी मेथी)-1 चम्मच, ताज़ा हरी धनिया-10 ग्राम, नमक-स्वादानुसार

विधि

राजमा को पानी से धो लीजिए और फिर आवश्यकतानुसार साफ पानी में रातभर डुबोकर रख दें। सुबह पानी में निथार लें, राजमा को प्रेशर कुकर में डाल दें और इसमें पानी, हल्दी और नमक मिला दें। इसे कुकर पर 5-7 सीटी आने तक मध्यम आंच पर पकने दिया जाए। ठंडा होने पर कुकर से राजमा बाहर निकाल लें। अदरक, लहसुन, टमाटर और ताजी हरी धनिया को बारीक-बारीक काट लें। एक चौड़ी कढ़ाही में घी को मध्यम आंच पर गर्म करें। गर्म होने पर इसमें ज़ीरा, सूखी लाल मिर्च डालकर एक बार चम्मच चलाएं और फिर इसमें बारीक कटा हुआ अदरक और लहसुन डालकर 20 सेकेंड भून लें। अब इस मिश्रण में बारीक कटे टमाटर, नमक, हल्दी, लाल मिर्च, धनिया पाउडर डालकर करीब एक मिनट तक पका लें। अब राजमा इसमें डाल दें और करीब 10 मिनट तक मध्यम आंच पर पकने दें। पकने के बाद कसूरी मेथी और ताज़ा हरा धनिया डालकर सजा लें। रोटी और चावल के साथ इस राजमा मसाले का आनंद लें।

क्या कहते हैं हर्बल आचार्य 

राजमा में बहुत प्रोटीन होता है। इसमें आयरन, फॉसफोरस, मैगनीशियम और विटामिन बी-9 खूब पाया जाता है। राजमा में मौजूद मैंगनीज़, एंटी-ऑक्सीडेंट का काम करता है। यह फ्री रैडिकल्स को डैमेज होने से रोकता है। इसके साथ इसमें मौजूद विटामिन-के की मात्रा कोशिकाओं को बाहरी नुकसानदायक चीजों से बचाती है जो कैंसर का मुख्य कारण होती हैं। विटामिन-के की पर्याप्त मात्रा ब्रेन के साथ ही नर्वस सिस्टम के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। राजमा में मौजूद थियामिन की मात्रा दिमाग की क्षमता बढ़ाती है। इससे अल्जाइमर जैसी बीमारी दूर रहती है। राजमा मसाला में लहसुन, टमाटर, मेथी, हरी मिर्च, अदरक, जीरा जैसे खास अंग सेहत की बेहतरी के लिए बेहद उत्तम हैं, अब देरी किस बात की। 

Tags:    India 
Share it
Top