शिकारी पक्षियों के संरक्षण संबंधी सहमति पर सरकार ने किए हस्ताक्षर

शिकारी पक्षियों के संरक्षण संबंधी सहमति पर सरकार ने किए हस्ताक्षरगाँवकनेक्शन

नई दिल्ली। सरकार ने अफ्रीका तथा यूरेशिया की शिकारी पक्षियों के संरक्षण के लिए शिकारी पक्षी सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर दिया है। शिकारी पक्षियों में 76 प्रकार के पक्षी आते हैं। इनमें गिद्ध, बाज, चील, उल्लू और आक्रमक बाज सहित 46 प्रजातियां भारत में पाई जाती है।

सहमति ज्ञापन पर सात मार्च, 2016 को आबूधाबी में संयुक्त अरब अमीरात में भारत के राजदूत टीपी सीतारमण ने हस्ताक्षर किया। भारत शिकारी पक्षी सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने वाला 56वां देश है।

शिकारी पक्षी सहमति ज्ञापन 22 अक्टूबर, 2008 को पूरा हुआ था और यह 1 नवंबर, 2008 से प्रभावी हुआ। शिकारी पक्षी सहमति ज्ञापन प्रवासी प्रजाति कार्यालय समझौता का हिस्सा है और कानूनी रूप से बाध्यकारी नहीं है।

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 30 दिसंबर, 2015 को अफ्रीका तथा यूरेशिया के शिकारी पक्षियों के संरक्षण के लिए शिकारी पक्षी सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने के पर्यावरण, वन तथ जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के प्रस्ताव को स्वीकार किया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top