समय पर भुगतान नहीं कर रहीं चीनी मीलें

समय पर भुगतान नहीं कर रहीं चीनी मीलेंगाँव कनेक्शन

लखनऊ। चीनी मीलें किसानों को गन्ना मूल्य का बकाया भुगतान नहीं कर रही हैं। ऐसी चीनी मीलों के खिलाफ गन्ना एवं चीनी आयुक्त कार्यालय आरसी जारी करेगा।इसके साथ ही विभाग ने मीलों को दूसरी किस्त भी अदा करने के निर्देश दिए हैं। मीलों को अरली गन्ने का 60 रुपए प्रति कुंतल, सामान्य का 50 और रिजेक्ट का 45 रुपए प्रति कुंतल की दर से भुगतान करने के निर्देश दिए हैं। 

इसके बावजूद भी प्रदेश के चीनी मीलें गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं कर रही हैं। 117 चीनी मीलों को 17,984 करोड़ रुपए एसएपी के मद के रूप में भुगतान करना है। जबकि पहली किस्त के रूप में मीलों ने सिर्फ 11,603 करोड़ रुपए का ही भुगतान किया है। 65 मीलें ऐसी भी हैं, जिनका अभी पूरा भुगतान बकाया है। 

गाजियाबाद की मोदी, मुजफ्फरपुर की तिवाती और बागपत की मलकपुर चीनी मील ने 10 फीसद से कम का भुगतान किया है।नौ चीनी मीलों मवाना, बधौली, शामली, बिलारी, चिलवरिया, ब्रजनाथपुर, बहेड़ी और सिघांवली मिल ने 10 से 30 फीसद तक ही भुगतान किया है। इसके अलावा नगलामऊ, करीमगंज, वाल्टरगंज, प्रतापपुर, बुढ़ाना और कुलौनी ने 30 से 40 फीसदी की बकाया भुगतान किया है। 30 फीसदी तक गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं करने पर एफआईआर भी दर्ज कराई जा चुकी है। इसके बाद भी मीलें गन्ना भुगतान करने में आनाकानी कर रही हैं। 

42 मीलों ने किया 100 फीसदी भुगतान

प्रदेश की 42 चीनी मीलें भु्गतान करने में अव्वल रही हैं। इसमें 39 चीनी मील निजी क्षेत्र की हैं। सहकारी क्षेत्र की मुजफ्फरनगर की मोरना व बिजनौर की स्नेहनगर और मेरठ की मोइउद्दीन चीनी मील शामिल है।

रिपोर्टर - जसवंत सोनकर

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top