संगम में पेशाब करते पकड़े गए एडीएम साहब

संगम में पेशाब करते पकड़े गए एडीएम साहबgaon connection, गाँव कनेक्शन

गाँव कनेक्शन नेटवर्क

इलाहाबाद। एक ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को स्वच्छ रखने की मुहिम चला रहे हैं, वहीं सरकारी अधिकारी पीएम मोदी की इस कोशिश पर पानी फेरते नज़र आ रहे हैं।

क्या है पूरा मामला

यमुना किनारे पेशाब करने के आरोप में फंसे एडीएम ओ पी श्रीवास्तव को ज़िलाधिकारी संजय कुमार ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

दरअसल इलाहाबाद में त्रिवेणी महोत्सव की शुरुआत होने वाली है और इसके लिए जिले के डीएम पत्रकारवार्ता कर रहे थे। तभी वहां मौजूद एडीएम ओ पी श्रीवास्तव साहब लघुशंका के लिए उठे और उन्होंने यमुना के किनारे ही गंदगी फैला दी।

उनकी ये हरकत किसी ने कैमरे में कैद कर ली, सोशल मीडिया पर ये वीडियो खूब शेयर किया जा रहा है।

खुले में पेशाब किया तो बनेगा वीडियो

अगर आप किसी बस अड्डे के पास खुले में पेशाब कर रहे हैं तो सावधान हो जाइये क्योंकि आपका पेशाब करता हुआ वीडियो अब दुनिया देखेगी।  

प्रदेश सरकार ने जारी किए निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम ने खुले में पेशाब करने से होने से वाली गंदगी को रोकने के लिए ये फैसला किया है। बस अड्डों पर लगे सीसीटीवी फुटेज के जरिए खुले में पेशाब करने वालों की न केवल पहचान की जाएगी, बल्कि उनके वीडियो को यू-ट्यूब पर अपलोड भी किया जाएगा।

कैसरबाग बस अड्डे में तैनात क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी श्वेता सिंह ने बताया कि ''अभी यूट्यूब में वीडियो को डाला नहीं गया है आने वाले पंद्रह दिनों में पहले फ्लेक्स बनवाए जाएंगे उसके बाद भी अगर कोई खुले में पेशाब करते दिखाई दिया तो उसका वीडियो यूट्यूब पर अपलोड कर दिया जाएगा।

कैसरबाग बस अड्डे पर 16 सीसीटीवी लगे हुए हैं और कुल 8 शौचालयों की सुविधा है। स्वच्छ भारत अभियान के तहत चलाए जाने वाले इस अभियान का उद्देश्य लोगों में शौचालय के व्यवहार को लेकर जागरूक करने के साथ-साथ गंदगी फैलने से रोकना है।

Tags:    India 
Share it
Top