संसद सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित, नहीं पारित हो सका जीएसटी बिल

संसद सत्र अनिश्चित काल के लिए स्थगित, नहीं पारित हो सका जीएसटी बिलgaoconnection

नई दिल्ली (भाषा)। संसद का 25 अप्रैल से शुरू हुआ सत्र शुक्रवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया और इस दौरान परोक्ष करों में महत्वपूर्ण सुधार वाला जीएसटी विधेयक पारित नहीं हो पाया हालांकि वित्त विधेयक और दिवाला संबंधी विधेयक सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक पारित किये गये।

लोकसभा को बुधवार को ही निर्धारित समय से दो दिन पहले ही अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया था। राज्यसभा को सेवानिवृत्त होने जा रहे 53 सदस्यों को विदाई देने के बाद आज अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया गया।

वर्तमान सत्र के दौरान जहां लोकसभा ने 14 घंटे वहीं राज्यसभा ने 10 घंटे अधिक काम किया। किन्तु दोनों सदनों में उत्तराखंड में राजनीतिक संकट, ऑगस्टा वेस्टलैंड हेलीकाप्टर सौदे में कथित भ्रष्टाचार, जीएसपीसी की केजी बेसिन परियोजना को लेकर कैग की रिपोर्ट सहित विभिन्न मुद्दों पर हंगामा हुआ। हंगामे के कारण राज्यसभा में 19 घंटे काम बाधित रहा। हालांकि कई सत्रों के बाद लोकसभा में पहली बार ऐसा हुआ कि हंगामे के कारण किसी भी दिन पूरे समय के लिए सदन की बैठक स्थगित नहीं की गयी।

राज्यसभा में आज सदन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने से पहले सभापति हामिद अंसारी ने अपने पारंपरिक संबोधन में कहा, ‘‘सदनों ने चर्चा करने एवं असहमति जताने तथा अपनी राजनीतिक मजबूरियों एवं वैचारिक रुख के कारण समायोजन बैठाने एवं मतभेद व्यक्त करने की अपनी असाधारण क्षमता का परिचय दिया।'

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सेवानिवृत्त होने जा रहे सदस्यों को शुभकामनाएं देते हुए परोक्ष करों में महत्वपूर्ण सुधारों के प्रावधानों वाले जीएसटी विधेयक के संसद के मौजूदा सत्र में पारित नहीं होने पर प्रदेशों के हितों के प्रभावित होने पर चिंता जतायी तथा कहा कि इसके पारित होने से 'राज्यों को सीधे सीधे लाभ पहुंचता।' 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top