सफेद मक्खी से कपास को हुए नुकसान का आंकलन करने के निर्देश जारी

सफेद मक्खी से कपास को हुए नुकसान का आंकलन करने के निर्देश जारीgaoconnection

नई दिल्ली। कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने राज्यों को आदेश जारी किए हैं कि वो जल्द से जल्द कपास की फसलों को सफेद मक्खी से हुए नुकसान का आंकलन करें।

कृषि मंत्रालय ने पंजाब, हरियाणा और राजस्थान को लेकर खास सावधानी बरतने की हिदायत दी है। दरअसल बीते साल सफेद मक्खी की वजह से पंजाब और हरियाणा में बड़े पैमाने पर कपास की फसलों को नुकसान पहुंचा था। इस साल दोबारा कपास की फसलों को नुकसान से बचाने के लिए मंत्रालय ने ख़ास तरह की रणनीति बनाई है।

सेंट्रल कॉटन रिसर्च रीज़नल सेंटर ने पंजाब, हरियाणा और राजस्थान समेत कई राज्यों के कृषि वैज्ञानिकों से लगातार संपर्क में है और फसलों को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए लगातार उन्हें मशविरा दे रहे हैं। कृषि मंत्रालय ने किसानों से अपील की है कि वो वक्त पर कपास की बुआई करें साथ ही बुआई के साथ-साथ अच्छे कीटनाशकों का इस्तेमाल करें जिनकी मदद से कपास के पौधों को सफेद मक्खी के असर से बचाया जा सके। साथ ही सरकार तमाम कृषि केंद्रों के ज़रिए किसानों को अच्छी किस्म के बीज भी बंटवा रही है।

Tags:    India 
Share it
Top