न्यूजीलैंड-भारत टेस्ट मैचः पहले दिन लड़खड़ाया भारत

न्यूजीलैंड-भारत टेस्ट मैचः पहले दिन लड़खड़ाया भारतअर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट खेलते चेतेश्वर पुजारा।

कोलकाता (भाषा)। न्यूजीलैंड की सटीक गेंदबाजी के सामने भारत का मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप शुक्रवार को यहां दूसरे टेस्ट के पहले दिन शुरुआती झटकों से उबरने में असफल रहा और सात विकेट गंवाकर 239 रन ही बना सका।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स की दोबारा बिछायी गयी पिच पर टास जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया, जो भारत के घरेलू मैदान पर 250वें टेस्ट की मेजबानी कर रहा है लेकिन चेतेश्वर पुजारा (87) और अजिंक्य रहाणे (77) को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका।

जब खराब रोशनी के कारण 87वें ओवर में दिन का खेल समाप्त किया गया तो विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा 14 रन बनाकर खेल रह थे जबकि रविंद्र जडेजा ने खाता नहीं खोला था।

केन विलियमसन के रूप में करारा झटका

न्यूजीलैंड को सुबह नियमित कप्तान और शीर्ष बल्लेबाज केन विलियमसन के बीमार होने के कारण करारा झटका लगा लेकिन उसने इसके बावजूद पहले दिन बेहतरीन प्रदर्शन किया।

मैट हैनरी ने झटके तीन विकेट

मध्यम गति के गेंदबाज मैट हैनरी ने 15 ओवर में 35 रन देकर तीन जबकि आफ स्पिनर जीतन पटेल ने दो विकेट प्राप्त किये जिन्हें मार्क क्रेग के चोटिल होने के कारण टीम में शामिल किया गया। ट्रेंट बोल्ट और नील वैगनर ने भी एक एक विकेट हासिल किया।

टीम इंडिया की शुरुआत खराब

भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही, उसने 50 रन के स्कोर से पहले ही अपने शीर्ष तीन बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिये थे। पुजारा और रहाणे ने चौथे विकेट के लिये 141 साझेदारी निभाकर भारत को खराब शुरुआत से उबरने में मदद की।

पुजारा ने 87 रन की पारी

फार्म में चल रहे पुजारा ने 219 गेंद में 17 चौके की मदद से 87 रन बनाये। पिछली तीन पारियों में यह उनका तीसरा अर्धशतक है।

जल्दी खोए शुरुआती विकेट

पहले सत्र में भारत ने 46 रन पर तीन विकेट खो दिये थे, जिसके बाद पुजारा और रहाणे ने न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का डटकर सामना किया। दोनों ने मिलकर तीन घंटे नौ मिनट तक बल्लेबाजी की।

अंतिम सत्र में झटके तीन विकेट

न्यूजीलैंड ने अंतिम सत्र में चार विकेट झटककर प्रभावित किया। पुजारा को वैगनर ने मार्टिन गुप्टिल के हाथों कैच आउट किया। हालांकि रोहित शर्मा (02) के लिये पसंदीदा मैदान पर दिन अच्छा नहीं रहा, उन्हें पटेल ने पवेलियन भेजा जो ऐसा लगता है कि एक रन का प्रयास लेते हुए वह अपना कंधा भी चोटिल कर बैठे।

हैनरी ने दिए शुरुआती झटके

मेहमान टीम के लिये दो खिलाडियों ने वापसी की जिसमें पहले टिम साउदी की जगह लेने वाले 24 वर्षीय हैनरी रहे जिन्होंने शिखर धवन (01) और मुरली विजय (09) को आउट किया। हैनरी ने दिन के दूसरे ओवर में धवन को आउट किया जो केवल 10 गेंद ही खेल सके। उन्होंने अपने पहले ओवर की दूसरी गेंद पर वापसी करने वाले भारतीय खिलाडी की पारी खत्म कर दी। लोकेश राहुल की जगह शामिल हुए धवन कोण लेती गेंद को खेलने की कोशिश की लेकिन यह उनके स्टंप उखाडकर चली गयी। जब ऐसा लग रहा था कि कोहली (09) पुजारा के साथ पारी को आगे बढ़ायेंगे तभी ट्रेंट बोल्ट ने भारतीय कप्तान को आउट कर दिया जिससे वह फिर से बड़ा स्कोर नहीं बना सके।

लाथम ने झटका कोहली का कैच

कोहली ने खूबसूरत कवर ड्राइव के बाद आफस्टंप के बाहर जाती गेंद पर आईपीएल की तरह का शाट खेला और टाम लाथम ने उछलकर शानदार तरीके से इसे लपक लिया। लंच से आधा घंटा पहले यह विकेट गिरा। लेकिन पुजारा और रहाणे ने दूसरे सत्र में कोई विकेट नहीं गिरने दिया। पुजारा ने कानपुर टेस्ट में 62 और 78 रन की पारियां खेलकर अहम भूमिका अदा की थी, उन्होंने फिर दिखा दिया कि खराब शुरुआत के बाद टीम के लिये किस तरह के खेल की जरूरत होती है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top