सरकार की पांच लाख खेत तालाब बनाने की योजना :प्रधानमंत्री

सरकार की पांच लाख खेत तालाब बनाने की योजना :प्रधानमंत्रीGaon Connection

नई दिल्ली (भाषा)। देश के कई हिस्सों में भूजल स्तर में लगातार गिरावट आने के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि सरकार पांच लाख खेत तालाब बनाने जा रही है और मनरेगा के तहत भी इस पहल को जोड़ा गया है।

उन्होंने लोगों से पानी के महत्व को समझने और जल संचय प्रयासों से जुडने का अनुरोध किया। आकाशवाणी पर प्रसारित मन की बात कार्यक्रम में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा, ''आपने देखा होगा कि हमने 5 लाख तालाब, खेत-तालाब बनाने का बीड़ा उठाया है। मनरेगा से भी जल संचय की ओर बल दिया है। गाँव-गाँव पानी बचाओ, आने वाली बारिश में बूंद-बूंद पानी कैसे बचाए, गाँव का पानी गाँव में रहे, ये अभियान कैसे चलायें, आप योजना बनाइए, सरकार की योजनाओं से जुड़िए ताकि एक जन-आंदोलन खड़ा हो सके। हम पानी का माहत्म्य समझें और पानी संचय के लिए हर कोई जुड़े।''

पीएम मोदी ने कहा कि देश में कई ऐसे गाँव होंगे, कई ऐसे प्रगतिशील किसान होंगे, कई ऐसे जागरुक नागरिक होंगे जिन्होंने इस काम को किया होगा। लेकिन फिर भी अभी और ज्यादा करने की ज़रूरत है। प्रधानमंत्री ने किसानों से खेतों में कम रासायनिक उर्वरक डालने और वैज्ञानिक पद्धति से खेती को आगे बढ़ाने के साथ कम लागत, अधिक पावत मंत्र को अपनाने का सुझाव दिया।

उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया के बारे में आपने बहुत सुना होगा। कुछ लोगों को लगता है कि डिजिटल इंडिया तो केवल शहर के नौजवानों की दुनिया है। लेकिन ऐसा नहीं है बल्कि आपको खुशी होगी कि एक किसान सुविधा एप आप सब की सेवा में प्रस्तुत किया है। ये किसान सुविधा एप के माध्यम से आपको कृषि सम्बन्धी, मौसम सम्बन्धी बहुत सारी जानकारियां अपनी हथेली में ही मिल जाएगी। बाजार का हाल क्या है, मंडियों में क्या स्थिति है, इन दिनों अच्छी फसल का क्या दौर चल रहा है, दवाइयां कौन-सी उपयुक्त होती हैं? इतना ही नहीं इसमें एक बटन ऐसा है कि जो सीधा-सीधा आपको कृषि वैज्ञानिकों के साथ जोड़ देता है। अगर आप अपना कोई सवाल उसके सामने रखोगे तो वो जवाब देता है। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि इस बारे में कुछ कमी महसूस होती है तो वे उन्हें शिकायत भी भेज सकते हैं।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.