Read latest updates about "Standout News" - Page 1

  • 'सुपर-वुमन का तो पता नहीं मगर पोस्ट-वुमन ज़रूर होती हैं'

    लखनऊ: यूँ तो डाकघर खुलने का समय 10 बजे होता है लेकिन चिट्ठी बाँटने निकलने से पहले की तैयारी के लिए डाकिये, सुबह 8:30 बजे से ही डाकघर में मौजूद हैं। 9:30 बज चुके हैं और डाकघर का वह बड़ा सा कमरा जिसमें डाकिये अपनी डाकें छांट रहे हैं, खचाखच भरा हुआ है। सरकारी दफ़्तर के इसी कमरे के एक डेस्क...

  • डाकिया डाक लाया: भावनाओं को मंज़िल तक पहुँचाती चिट्ठियां

    लखनऊ। 'डाकिया डाक लाया', फिल्‍म 'पलकों की छांव में' का ये गीत जब गुलज़ार ने लिखा होगा तो जरूर चिट्ठी-पत्री का जमाना ऊरूज पर होगा। हालांकि, वक्‍त के साथ एसएमएस और फिर वॉट्सएेप ने चिट्ठी-पत्री को कहीं पीछे छोड़ दिया। लेकिन आज भी चिट्ठीयों का अपना एक अलग ही असर है। इसी लिए राष्ट्रीय डाक सप्ताह (9-15...

  • गुजरात और बाक़ी दुनिया से भगाए गए लोग

    दुनिया भर में अपनाने और दुत्कारने की प्रक्रिया मूलत: एक है। इस प्रक्रिया की अपनी राजनीति है, अपना भूगोल है, अपना गणित है, अपनी सहूलियत हैं और अपनी असुरक्षा की भावनाएं भी। हम चाहते हैं कि हमें सब हर हालत में अपनाएं, लेकिन हम अपनी सुविधा से अपने दायरे से लोगों को बेदखल कर देते हैं। अमरीका में...

  • Domestic Dog: Biggest Threat To Wildlife In India?

    In India, the dog population is the fourth highest in the world. Around 60 million dogs are there in India. Poachers accompanied by dogs reach into protected sites, No wonder why dog attacks on wildlife are increasing. It's time to manage...

Share it
Top