सरकार, हमारे गांव की ये सड़क भी बनेंगी न ?

सरकार, हमारे गांव की ये सड़क भी बनेंगी न ?सूरतगंज ब्लॉक में लालपुर करौता से केदारीपुर गांव को जाने वाली टूटी सड़क

राजेश कुमार, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

बाराबंकी। जिला मुख्यालय से 55 किलोमीटर दूर सूरतगंज ब्लॉक के ग्रामपंचायत लालपुर करौता से केदारीपुर गांव को जाने वाली सड़क बदहाली के दौर से गुजर रही है। सड़क पूरी तरह से टूट चुकी है। यहां से गुजरने वाले यात्री टूटी सड़कों के कारण गिरकर घायल हो रहे हैं, बावजूद इसके इस सड़क को सही नहीं कराया जा रहा है।

सड़क के टूटने के कारण नालियों का पानी यहां जमा हो जाता है, जिससे यह रोड नाले के रूप में तब्दील हो चुकी है। ग्रामीणों एवं यात्रियों ने संबंधित अधिकारी और स्थानीय नेताओं से इसकी शिकायत की, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ। आये दिन इस सड़क को पार करने में लोग गंदे नाले में गिरकर चोटिल हो रहे हैं। करीब 15 दिन पहले इसी सड़क को पार करते समय एक युवक की मोटर साइकिल से फिसल कर मौत हो गई थी।

गांव के प्रधान पति वसीम बताते हैं, “ ये यह सड़क राज्य सरकार के अंतर्गत आती है। इसके निर्माण के लिए मेरे पास कोई बजट नहीं है। इस विषय पर हम कुछ नहीं कह सकते।”

वहीं केदारीपुर गाँव के निवासी कुँवारे चौहान (उम्र 55 वर्ष) बताते हैं, “ भइया यह रोड लगभग आठ साल पहले बनी थी। तब से इसकी मरम्मत तक नहीं हुई। सड़क पर सालों साल पानी भरा रहता है। पानी निकासी का कोई उपाय नहीं है। आए दिन लोग यहां गिरकर घायल हो जाते हैं।’’

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

क्लाइमेक्स इंटर कॉलेज के नौवीं के छात्र जसबिंद्र सिंह बताते हैं," हम और हमारे कई दोस्त इस रास्ते से अपने कालेज जाते हैं। हमड्रेस पहन कर निकलते हैं तो यही डर लगा रहता है कि, कहीं हम इसमें गिर न जाए और हमारी ड्रेस गंदी न हो जाए।" आसपास रहने वाले हजारों लोगों को उम्मीद है जिस तरह मुख्यमंत्री योगी जी ने 15 जून तक सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का निर्देश दिया है शायद उनके गांव की सड़क के भी दिन सुधर जाएं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top