आसान हुई महंगी शिक्षा की राह, ग्रामीण छात्र भी इस तरह पा सकते हैं लाखों की छात्रवृत्ति

आसान हुई महंगी शिक्षा की राह, ग्रामीण छात्र भी इस तरह पा सकते हैं लाखों की छात्रवृत्तिबडी फॉर स्टडी संस्था जरूरतमंद बच्चों को छात्रवृत्ति मुहैया कराने में काफी मदद कर रही है।

लखनऊ। ग्रामीण भारत में जहां आज भी बहुत सारे विद्यार्थी सुविधाओं से वंचित हैं। ऐसे में बडी फॉर स्टडी संस्था जरूरतमंद बच्चों को छात्रवृत्ति मुहैया कराने में काफी मदद कर रही है।

विद्यालय स्तर

छात्रवृत्ति: नेशनल इंजीनियरिंग चैलेंज 2017

विवरण: गेट कोचिंग प्राप्त करने के इच्छुक उम्मीदवार इस राष्ट्रीय इंजीनियर चुनौती के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके तहत 100 विद्यार्थियों को चुना जाएगा। इस चुनौती के चयन विद्यार्थियों का चयन प्रारंभिक, ज़ोनल व राष्ट्रीय स्तर के आधार पर होगा। 19 फरवरी प्रारंभिक चुनौती राउंड ऑनलाइन आयोजित की जाएगी।

मानदंड: इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले सभी विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन: ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

छात्रवृत्ति: फ्री गेट की कोचिंग, टेबलेट व 1,50,000 लाख तक की नगद इनाम राशि विजेता व दूसरे नंबर पर आने वाली टीम को दी जाएगी।

अंतिम तिथि: 18 फरवरी, 2017

गरीब छात्र भी पा सकते हैं उच्च शिक्षा का मौका।

उच्च शिक्षा स्तर

छात्रवृत्ति: जेएन टाटा एंडोवमेंट स्कॉलरशिप 2017

विवरण: विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इच्छुक भारतीय विद्यार्थियों सेजाति, धर्म, समुदाय, लिंगभेद से परे हटकर एकमुश्त जमशेद जी टाटा एंडोवमेंट स्कॉलरशिप के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इस स्कॉलरशिप के तहतपूर्णकालिक स्नातकोत्तर (पोस्टग्रेजुएशन), पीएचडी या फिर पोस्ट डॉक्टरोल की पढ़ाई करने वाले उम्मीदवार आवेदन पत्र दाखिल कर सकते हैं, इस योजना के तहत छात्रवृत्ति के अलावा अलग से इनाम की योजना भी तय की गई है।

मानदंड: उत्कृष्ट शैक्षणिक रिकॉर्ड व अन्य उपलब्धियां प्राप्त करने वाले विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा 45 वर्ष तक के आवेदक जिनके पास शोध क्षेत्र में कार्य अनुभव हो, शोध क्षेत्र में ट्रेनिंग ले रहे हों या फिर शोध विशेषज्ञ हों वे आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन: केवल ऑनलाइन आवेदन स्वीकार्य होगा।

छात्रवृत्ति: उम्मीदवार को 1,00,000 से लेकर 10,00,00 (दस लाख) रुपये तक की राशि दी जाएगी।

इसके अलावा उम्मीदवार 10,00,000 (दस लाख) रुपये तक की उपहार स्कॉलरशिप व 50,000 रुपये तक की यात्रा खर्च राशि भी जीत सकते हैं।

अंतिम तिथि: 23 मार्च, 2017

Source URL: http://www.b4s.in/gaon/JNT2

व्यावसायिक स्तर

छात्रवृत्ति: लेजिस्लेटिव एसिस्टेंट टू एमपी फैलोशिप 2017-18

विवरण: मानसून सत्र के लिए संसद सदस्यों को विधान सहायक (एलएएमपी) फैलोशिप 2017-18 के तहत 10-11 महीनों के लिए संसद सदस्य के साथ उनके दिशा निर्देशन के तहत कार्य करना होगा। 10 से 11 माह के लिए पूर्णकालिक रूप से दिल्ली में रह कर उम्मीदवारों को संसद सदस्य के साथ उनके अनिवार्य कार्यों जैसे सांसदों को उनके संसदीय दायित्वों को पूरा करने, महत्वपूर्ण मामलों को उठाना, सिविल बहस में भाग लेना, विधेयकों के निजी मसौदे तैयार करने आदि कार्यों में सहायक के रूप कार्य करना होगा।

मानदंड: इच्छुक उम्मीदवार की मई 2017 तक किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन पूरी होनी चाहिए व आयु 25 वर्ष से अधिक न हो।

आवेदन: ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

छात्रवृत्ति: 17,000 रुपये स्टाइपेंड व 3,000 रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top